Breaking News

Akhand Bharat

यात्री सुविधाओं के विस्तार के लिए चल रहा कार्य बंद किये जाने से जनता में आक्रोश

 


रेवती (बलिया ) स्थानीय रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधाओं के विस्तार के लिए चल रहा सारा कार्य बंद किये जाने से नगर क्षेत्र की जनता में गहरा आक्रोश व्याप्त है । जनता की बार बार मांग के बावजूद रेल प्रशासन द्वारा हाल्ट घोषित रेवती को स्टेशन का दर्जा बरकरार नही रखने के चलते यहां यात्री सुविधाओं के विस्तार के लिए प्लेट फार्म नं 1,2 पर चल रहा विस्तार सहित अन्य सारा कार्य बंद कर दिया गया है। ऊपर गामी सेतू के लिए नीचे उतरे के लिए चबूतरा तक का काम भी ठप है । वही बगल के सहतवार , बांसडीहरोड , सुरेमनपुर , बकुलहा स्टेशनो पर कार्य जोर शोर से चल रहा है। 

रेल रोको संघर्ष समिति के संयोजक लक्ष्मण पांडेय ने बताया कि इस संबंध में रेल प्रशासन सहित क्षेत्रीय सांसद को कई बार पूर्व में ज्ञापन सौंपा गया है। रेवती नगर पंचायत के साथ ब्लाक मुख्यालय भी है । गंगा व घाघरा के तटवर्ती दर्जनों ग्राम सभाओं के ढाई लाख से अधिक आबादी का जुड़ाव रेवती रेलवे स्टेशन से है। नगर क्षेत्र के हजारों हजारों लोग सूदूरवर्ती प्रान्तों व महानगरों में कार्यरत है । उनकों सुरेमनपुर व बलिया ट्रेन पकड़ने आने जाने में अतिरिक्त धन व काफी समय लगता है। कामरेड ओम प्रकाश कुंवर ने बताया कि यह आजादी से पहले का स्टेशन है। अभी तक इसका दर्जा इ श्रेणी का था । अब उससे भी कम कर हाल्ट कर दिया गया है जिससे क्षेत्र की जनता कतई बर्दाश्त नही कर पायेगी। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल रेवती के अध्यक्ष बीरेन्द्र गुप्ता ने कहा कि सांसद द्वारा इस स्टेशन को नजरअंदाज व पैरवी न करने के कारण रेवती स्टेशन से हाल्ट हो गया है । इसका खामियाजा सरकार को आगामी विधानसभा चुनावों में भारी पड़ सकता है । कारण यह जनता से जुड़ा हुआ मुद्दा है । 


यात्री सुविधाओं के विस्तार तथा स्टेशन का दर्जा बरकार रखने के लिए होगा प्रयास - सांसद 

इस संबंध में सलेमपुर के सांसद रविन्द्र कुशवाहा ने बताया कि यात्री सुविधाओं के विस्तार के लिए चल रहा कार्य पुनं आरंभ करने , हाल्ट घोषित रेवती को स्टेशन का दर्जा बरकरार रखने तथा इसे इ श्रेणी से हटाकर सी श्रेणी में करने के लिए अपने स्तर से मंत्रालय को खत लिखने के साथ पूरजोर प्रयास करूगा ।


पुनीत केशरी

No comments