Breaking News

Akhand Bharat

आशाओं के बीच विधायक ने बांटा दवा का कीट


हल्दी, बलिया। कोरोना की कड़ी को तोड़ने के लिए  0 वर्ष से 12 वर्ष के बच्चों के लिए दवा किट वितरण का शुभारम्भ रविवार को  सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनवानी पर बैरिया विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह द्वारा किया गया। इस मौके पर विधायक ने आशाओं को दवा किट देते हुए कहा कि चिकित्सक ,शिक्षक व रक्षक का स्थान समाज में सबसे ऊंचा है।इन्ही से समाज का विकास संभव है।आप लोग ईमानदारी से अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए दवा का वितरण करे।उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को आदरणीय बताते हुए कहा कि 23 करोड़ की आबादी वाले इस प्रदेश में उन्होंने कोरोना की जंग जीत कर सबको दिखा दिया।जब कि सभी मंत्री व विधायक कोरोना काल में अपने घरों में दुबके रहे।  विधायक ने उपस्थित जन समूह से कहा कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सोनवानी को मैंने गोद लिया है।लेकिन विगत बर्ष से ही कोरोना काल की वजह से निधि नहीं मिल पाया। उन्होंने  ग्राम प्रधान प्रतिनिधि  से आग्रह किया कि   चिकित्सालय और  देवालय में कोई खास फर्क नही होता है, अतः आप अपने सफाई कर्मियों से प्रतिदिन स्वच्छता  सुनिश्चित कराए। ग्राम प्रधान प्रतिनिधि सोनवानी  अनुराग मिश्र जय व वेंकटेश मिश्र ने पत्रक देकर आर ओ प्लांट ,डिजिटल एक्सरे मशीन सहित जर्जर विद्युत व्यवस्था सहित अन्य समस्याओं के निदान कराने के लिए पत्रक दिया।वही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनवानी के अधीक्षक डॉ मुकर्रम अहमद ने हॉस्पिटल में स्वीपर, कर्मचारियों व डॉक्टरों की कमियों से अवगत कराया तथा दवाओं के लिए विद्युत व्यवस्था दरुस्त करने की मांग की।इस मौके पर डॉ जगमोहन प्रसाद,डॉ अवध कुमार कुशवाहा,बीपीएम राकेश सिंह,बीसीपीएम संजय यादव,फार्मासिस्ट रामप्यारे शर्मा,सरोजनी चौबे, पूनीता मिश्रा,दीपक श्रीवास्तव,मुन्ना जी,लक्ष्मण सिंह,एडवोकेट सुनील पाण्डेय,बुचकुन उपाध्याय,संजय उपाध्याय,आशा पूनम,उर्मिला सिंह,रीना गुप्ता,ईश्वरी चौबे,शांति देवी सहित सभी आशाये व क्षेत्रय लोग उपस्थित थे।


विधायक के कहने के बाद भी मात्र 100 डोज

हल्दी। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सोनवानी के अंतर्गत छोटे-बड़े करीब 70 गांव है,बावजूद पिछले तीन दिनों से वैक्सीन नहीं है।क्षेत्रीय लोगों के द्वारा जब यह बात मौजूद विधायक सुरेंद्र सिंह को बताया गया तो विधायक ने मौके से ही तुरंत सीएमओ को कर वैक्सीन के लिए फोन किया।तो मात्र 100 डोज उपलब्ध हुआ।लाखों की आबादी के लिए यह वैक्सीन ऊंट के मुह में जीरा के समान है।


रिपोर्ट एस के द्विवेदी

No comments