Breaking News

31 जुलाई का पंचांग व राशिफल

 


.                     ‼️ 🕉️ ‼️

         🚩🌞 *सुप्रभातम* 🌞🚩

     📜««« *आज का पञ्चांग* »»»📜

कलियुगाब्द.........................5123

विक्रम संवत्........................2078

शक संवत्...........................1943

मास..................................श्रावण

पक्ष....................................कृष्ण

तिथी.................................अष्टमी

दुसरे दिन प्रातः 07.55 पर्यंत पश्चात नवमी

रवि.............................दक्षिणायन

सूर्योदय............प्रातः 05.57.56 पर

सूर्यास्त............संध्या 07.08.41 पर

सूर्य राशि..............................कर्क

चन्द्र राशि..............................मेष

गुरु राशी.............................कुम्भ

नक्षत्र..............................अश्विनी

दोप 04.39 पर्यंत पश्चात भरणी

योग...................................शूल

रात्रि 08.59 पर्यंत पश्चात गंड

करण...............................बालव

संध्या 06.48 पर्यंत पश्चात कौलव

ऋतु...................................वर्षा

*दिन..........................शनिवार*


*🇮🇳 राष्ट्रीय सौर श्रावण, दिनांक ०९*

*( नभ मास ) !*


*🇬🇧 आंग्ल मतानुसार दिनांक*

*३१ जुलाई सन २०२१ ईस्वी !*


☸ शुभ अंक...........................2

🔯 शुभ रंग...........................हरा


⚜️ *अभिजीत मुहूर्त :-*

दोप 12.06 से 12.59 तक ।


👁‍🗨 *राहुकाल :-*

प्रात: 09.17 से 10.55 तक । 


🌞 *उदय लग्न मुहूर्त -*

*कर्क*

04:39:47 07:00:28

*सिंह*

07:00:28 09:18:10

*कन्या*

09:18:10 11:34:50

*तुला*

11:34:50 13:54:43

*वृश्चिक*

13:54:43 16:13:40

*धनु*

16:13:40 18:18:01

*मकर*

18:18:01 20:00:36

*कुम्भ*

20:00:36 21:28:18

*मीन*

21:28:18 22:53:29

*मेष*

22:53:29 24:28:58

*वृषभ*

24:28:58 26:24:49

*मिथुन*

26:24:49 28:39:47 


🚦 *दिशाशूल :-*

पूर्व दिशा - यदि आवश्यक हो तो अदरक या उड़द का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें । 


✡ *चौघडिया :-*

प्रात: 07.38 से 09.16 तक शुभ

दोप. 12.32 से 02.10 तक चर

दोप. 02.10 से 03.47 तक लाभ

दोप. 03.47 से 05.25 तक अमृत

संध्या 07.03 से 08.25 तक लाभ

रात्रि 09.48 से 11.10 तक शुभ ।


📿 *आज का मंत्र :-*

॥ ॐ मधुकलोचनाय नमः ॥


📢 *संस्कृत सुभाषितानि -*

प्रातर्मूत्र पुरीषाभ्यां मध्याह्ने क्षुत्पिपासया ।

तृप्ताः कामेन बध्यन्ते प्राणिनो निशि निद्रया ॥ 

अर्थात :

प्राणीयों को सवेरे मल-मूत्र, मध्याह्न में क्षुधा-तृषा और रात को निंद्रा बाधा करते हैं; तृप्त (जिसके पास सब कुछ है) मनुष्य को काम (विषयानुराग) बाधा करता है ।


🍃 *आरोग्यं सलाह :-*

*गर्दन में दर्द के उपचार -*


*2. सेंधा नमक -*

सेंधा नमक में सल्फेट और मैग्नीशियम होता है, जो शरीर में कई एंजाइमों को विनियमित करने में मदद करता है। यह रक्त परिसंचरण या ब्लड सर्कुलेशन को भी बढ़ाता है और तनाव तथा मांसपेशियों के तनाव को कम करता है। इसके लिए आप बाथटब के तीन-चौथाई भाग को गर्म पानी से भरें और उसमें सेंधा नमक मिलाएं और 10 से 15 मिनट के लिए इसे सेक करें। 


.                    ⚜ *आज का राशिफल* ⚜


🐐 *राशि फलादेश मेष :-*

*(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)*

भूमि व भवन संबंधी खरीद-फरोख्त की योजना बनेगी। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। आर्थिक उन्नति होगी। संचित कोष में वृद्धि होगी। देनदारी कम होगी। नौकरी में मनोनुकूल स्थिति बनेगी। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। शेयर मार्केट आदि से बड़ा फायदा हो सकता है। परिवार की चिंता बनी रहेगी। 


🐂 *राशि फलादेश वृष :-*

*(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)*

शारीरिक कष्ट संभव है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा। यात्रा मनोरंजक रहेगी। स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। किसी प्रभावशाली व्यक्ति मार्गदर्शन प्राप्त होगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। झंझटों में न पड़ें। 


👫🏻 *राशि फलादेश मिथुन :-*

*(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)*

शत्रुओं का पराभव होगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय में निश्चितता रहेगी। दु:खद समाचार मिल सकता है। व्यर्थ भागदौड़ रहेगी। काम पर ध्यान नहीं दे पाएंगे। बेवजह किसी व्यक्ति से कहासुनी हो सकती है। प्रयास अधिक करना पड़ेंगे। दूसरों के बहकावे में न आएं। फालतू बातों पर ध्यान न दें। लाभ में वृद्धि होगी।


🦀 *राशि फलादेश कर्क :-*

*(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)*

पुराना रोग परेशानी का कारण बन सकता है। जल्दबाजी न करें। आवश्यक वस्तुएं गुम हो सकती हैं। चिंता तथा तनाव रहेंगे। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। भेंट व उपहार देना पड़ सकता है। प्रयास सफल रहेंगे। कार्य की बाधा दूर होगी। निवेश शुभ रहेगा। व्यापार में वृद्धि तथा सम्मान में वृद्धि होगी।


🦁 *राशि फलादेश सिंह :-*

*(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)*

किसी भी तरह के विवाद में पड़ने से बचें। जल्दबाजी से हानि होगी। राजभय रहेगा। दूर से शुभ समाचार प्राप्त होंगे। घर में मेहमानों का आगमन होगा। व्यय होगा। सही काम का भी विरोध हो सकता है। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। निवेश शुभ रहेगा। सट्टे व लॉटरी के चक्कर में न पड़ें।


🙎🏻‍♀️ *राशि फलादेश कन्या :-*

*(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)*

कोई भी महत्वपूर्ण निर्णय सोच-समझकर करें। किसी अनहोनी की आशंका रहेगी। शारीरिक कष्ट संभव है। लेन-देन में लापरवाही न करें। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल चलेगा। शेयर मार्केट से बड़ा लाभ हो सकता है। 


⚖ *राशि फलादेश तुला :-*

*(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)*

मस्तिष्क पीड़ा हो सकती है। आवश्यक वस्तु गुम हो सकती है या समय पर नहीं मिलेगी। पुराना रोग उभर सकता है। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। हल्की हंसी-मजाक करने से बचें। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। चिंता रहेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय में निश्चितता रहेगी। यश बढ़ेगा। 


🦂 *राशि फलादेश वृश्चिक :-*

*(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)*

बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। विवेक से कार्य करें। लाभ में वृद्धि होगी। फालतू की बातों पर ध्यान न दें। निवेश शुभ रहेगा। नौकरी में उन्नति होगी। व्यापार-व्यवसाय की गति बढ़ेगी। चिंता रह सकती है। थकान रहेगी। प्रमाद न करें। 


🏹 *राशि फलादेश धनु :-*

*(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)*

पुराना रोग उभर सकता है। योजना फलीभूत होगी। कार्यस्थल पर परिवर्तन संभव है। विरोधी सक्रिय रहेंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी। मित्रों की सहायता कर पाएंगे। आय में वृद्धि होगी। शेयर मार्केट से लाभ होगा। नौकरी में प्रभाव वृद्धि होगी। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। घर-परिवार में सुख-शांति रहेगी। जल्दबाजी न करें। 


🐊 *राशि फलादेश मकर :-*

*(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)*

व्यवसाय में ध्यान देना पड़ेगा। व्यर्थ समय न गंवाएं। पूजा-पाठ में मन लगेगा। कानूनी अड़चन दूर होगी। जल्दबाजी से हानि संभव है। थकान रहेगी। कुसंगति से बचें। निवेश शुभ रहेगा। पारिवारिक सहयोग प्राप्त होगा। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। दूसरों के काम में हस्तक्षेप न करें। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। 


🏺 *राशि फलादेश कुंभ :-*

*(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)*

घर-परिवार के किसी सदस्य के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। वाणी पर नियंत्रण रखें। चोट व दुर्घटना से बड़ी हानि हो सकती है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। फालतू खर्च होगा। विवाद को बढ़ावा न दें। अपेक्षाकृत कार्यों में विलंब होगा। चिंता तथा तनाव रहेंगे। आय में निश्चितता रहेगी। शत्रुभय रहेगा। 


🐋 *राशि फलादेश मीन :-*

*(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)*

कानूनी अड़चन दूर होकर लाभ की स्थिति निर्मित होगी। प्रेम-प्रसंग में जोखिम न लें। व्यापार में लाभ होगा। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। निवेश में सोच-समझकर हाथ डालें। शत्रु पस्त होंगे। विवाद में न पड़ें। अपेक्षाकृत कार्य समय पर होंगे। प्रसन्नता रहेगी। भाग्य का साथ मिलेगा। व्यस्तता रहेगी। प्रमाद न करें।


   *🚩🎪‼️ 🕉️ शं शनैश्चराय नमः ‼️🎪🚩*


*☯ आज का दिन सभी के लिए मंगलमय हो ☯*


                      *‼️ शुभम भवतु ‼️*


  🚩 🇮🇳 ‼️ *भारत माता की जय* ‼️ 🇮🇳 🚩🚩



डेस्क

No comments