Breaking News

'हाथी नहीं गणेश हैं, ब्रह्मा विष्णु महेश हैं' और 'जय परशुराम' के नारे साथ बसपा के प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी का आगाज

 


By: Dhiraj Singh                                                                                                                                                                                        

बलिया। 'हाथी नहीं गणेश हैं, ब्रह्मा विष्णु महेश हैं' और 'जय परशुराम' के नारे के साथ बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने शुक्रवार को बलिया जिले में आयोजित प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी का आगाज किया। अपने भाषण के जरिए मिश्र ने ब्राह्मण वोटों को सहेजने के लिए प्रदेश की बीजेपी सरकार पर ब्राह्मणों को टारगेट करने का आरोप लगाया। और योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। बसपा के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्रा ने ब्राह्मणों को बसपा के पक्ष में जुटने की अपील की। ब्राह्मण प्रतिनिधियों से संवाद किया और बसपा सरकार में ब्राह्मणों की भागीदारी और कामों को गिनाया। वहीं प्रदेश सरकार समेत सपा पर हमलावर दिखे।


नगर के भृगुआश्रम में आयोजित कार्यक्रम में मिश्रा ने कहा कि विधानसभा चुनाव में बसपा अपने बलबूते जनता के बीच आएगी। इस बार दल से नहीं जनता के दिल से गठबंधन करेंगे। ब्राह्मणों का मान सम्मान-स्वाभिमान सब लौटने का काम पहले भी किया है, आगे भी करेंगे। भाजपा शासन में दलितों और ब्राह्मणों को डराने-धमकाने का काम हो रहा है। प्रदेश के ताकतवर और उभरते ब्राह्मणों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। फंसाने के लिए इन्हें फर्जी मुकदमों में जेल में डाला जा रहा है, नहीं तो मार दिया जा रहा है। धर्म के नाम पर वोट मांगने वाली भाजपा ने श्रीराम को भी नहीं छोड़ा और अपने कार्यकर्ताओं को घर-घर भेजकर 10 हजार करोड़ रुपये कमा लिये हैं। कहा कि भाजपा और सपा की सोच एक सी है। दोनों एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। इनके राज में लूट, हत्या, दुष्कर्म जैसी घटनाएं आम हैं। महंगाई इतनी हो गई है कि अब तो बेरोजगार पकौड़े भी नहीं बेच पाएंगे। सत्ता में आने के पहले भाजपा के लोगों ने हर साल दो करोड़ नौकरी देने का वादा किया था। लेकिन, सत्ता में आने के बाद उन्होंने नौजवानों को ठगा है।



ब्राह्मणों का हमदर्द बनने की कोशिश


कानपुर के बिकरू कांड का जिक्र करते हुए बसपा के राष्‍ट्रीय महासचिव ने कहा कि भाजपा ने पूरे प्रदेश में डर का माहौल तैयार कर दिया है। ब्राह्मण समाज के लोगों को घरों से उठाकर एनकाउंटर कराकर मरवाने में सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल किया गया। खुशी दुबे के हाथ की मेहंदी भी नहीं छूटी और झूठी वाहवाही के लिए उसे जेल में बंद कर दिया। असलियत खुलने के डर से उसकी जमानत नहीं होने दी जा रही है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ब्राह्मणों को लगातार टारगेट कर रही है।



एसपी, बीजेपी है ब्राह्मण विरोधी पार्टी


सतीश चंद्र मिश्र ने पूर्व की एमपी सरकार पर भी तंज कसते हुए कहा कि एसपी के शासनकाल में भी ब्राह्मणों पर खूब अत्याचार हुए हैं। उसी तर्ज पर वर्तमान की बीजेपी सरकार भी चल रही है। जबकि बसपा के राज में ब्राह्मणों को पर्याप्त सम्मान दिया जाता था।


-------


महर्षि भुगु की समाधि पर टेका मत्था


कार्यक्रम में शामिल होने से पूर्व बसपा के राष्ट्रीय महासचिव ने महर्षि भृगु की समाधि पर मत्था टेका और आशिर्वाद लिया। इसके पूर्व क्रार्यक्रम स्थल पर पहुंचने से पूर्व रसड़ा विधायक उमाशंकर सिंह के पैतृक गांव खनवर में स्थित खाकी बाबा की समाधि पर सांसद सतीश मिश्रा ने मत्था टेका और आशीर्वाद लिया।



ब्राह्मण नेताओं ने किया स्वागत


बसपा के प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी में पहुंचे राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद सतीश मिश्रा का ब्राह्मण नेताओं ने माल्यापर्ण कर स्वागत किया। तदोपरांत फरसा, चांदी का मुकुट और स्मृति चिन्ह देकर मिश्रा को सम्मानित किया। इस अवसर पर मुख्य रुप से चितबडागांव नगर पंचायत के अध्यक्ष केसरी नंदन त्रिपाठी, पप्पू तिवारी, अंगद मिश्रा, उपेन्द्र पांडेय आदि के अलावा विधायक उमाशंकर सिंह व अन्य मौजूद रहे।

No comments