Breaking News

Akhand Bharat

उत्तर प्रदेश शासन की योजनान्तर्गत राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान द्वारा राज्य कर्मियों को किया जाएगा पुरस्कृत : डॉ0 शोभा दीक्षित



रिपोर्ट : धीरज सिंह


बलिया : उत्तर प्रदेश शासन की योजनान्तर्गत राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान द्वारा वर्ष 2021-22 के लिए राज्य कर्मियों को पुरस्कृत किया जाना है। उक्त जानकारी महामंत्री डॉ0 शोभा दीक्षित ‘‘भावना‘‘ ने दी है। उन्होने बताया कि पुरस्कार प्राप्त करने के लिए देवनागरीलिपि में लिखी जाने वाली प्रदेश की भाषाओं/बोलियों में दीर्घकालीन साहित्यिक सेवा के लिए 04 पुरस्कार (दो गद्य एवं दो पद्य) हेतु तथा गद्य की 03 एंव पद्य की 05 कृतियों के लिए 08 पुरस्कार दिये जाने है।उन्होने बताया कि हिन्दी भाषा/प्रदेश की बोलियों में दीर्घकालीन सेवा हेतु सेवानिवृत्त राज्य कर्मियों को गद्य/पद्य में एक-एक पुरस्कार तथा गद्य/पद्य की पुस्तको पर एक-एक पुरस्कार प्रदान किया जाना है। राज्य कर्मियों हेतु उर्दू भाषा में दीर्घकालीन साहित्यिक सेवा हेतु 02 पुरस्कार (गद्य या पद्य) उर्दू भाषा फारसी लिपि में रचित या अन्य भाषा में लिखित मौलिक पुरस्तक की फारसी लिपि में अनुवादित/लिप्यंतरित गद्य या पद्य के लिए पुरस्कृत किया जायेंगा। उक्त सभी पुरस्कारों की धनराशि रू0 01-01 लाख होगी। 

उन्होने बताया कि राज्य कर्मी साहित्यकार अधिक से अधिक संख्या में अपनी कृति तथा पूर्ण प्रविष्टियों के साथ सचिव पुरस्कार समिति राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान कक्ष संख्या 119ब भूतल निकट गेट संख्या 09 उ0प्र0 सचिवालय हजरतगंज लखनऊ 226001 के पते पर प्रेषित करें। उक्त विवरण संस्थान के फेसबुक पेज राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान यू0पी0 और व्हाट्सएप मोबाइल नम्बर 9889244284 द्वारा भी प्राप्त की जा सकती है।

No comments