Breaking News

Akhand Bharat

बलिया में 22 नवंबर से चार दिसम्बर तक चलेगा पुरुष नसबंदी अभियान

 



- राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की निदेशक का पत्र आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने शुरू की तैयारी

- प्रजनन स्वास्थ्य के मद्देनजर पुरुष नसबन्दी बहुत ही महत्वपूर्ण

- हर माह की 21 तारीख को होने वाला खुशहाल परिवार दिवस, 22 नवम्बर को 

बलिया :परिवार नियोजन कार्यक्रम के अंतर्गत पुरुष नसबंदी पखवाड़ा का आयोजन 22 नवम्बर से चार दिसम्बर के मध्य किया जाएगा। पुरुषों ने परिवार नियोजन को अपनाया,सुखी परिवार को आधार बनाया थीम पर दो चरणों में जागरूकता अभियान चलेगा। इस दौरान प्रजनन स्वास्थ्य को देखते हुए पुरुष नसबंदी के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी। इस बार 21 तारीख को रविवार होने के कारण हर माह की 21 तारीख को होने वाले खुशहाल परिवार दिवस को  22 नवम्बर को मनाया जाएगा।

पुरुष नसबंदी पखवाड़ा को मनाए जाने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की निदेशक ने स्वास्थ्य विभाग को पत्र भेजा है। निदेशक के पत्र के बाद स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियों को शुरू कर दिया है। यह जानकारी परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ० सुधीर कुमार तिवारी ने दी। उन्होंने  बताया कि पुरुषों ने "परिवार नियोजन अपनाया-सुखी परिवार का आधार बनाया" थीम पर जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। विभिन्न स्तर पर व्यापक व सघन प्रचार-प्रसार किया जाएगा। भारत सरकार से प्राप्त निर्देशों के अनुसार पहले चरण में 22 से 28 नवम्बर के मध्य मोबिलाइजेशन  फेज, दूसरे चरण में 29 नवम्बर से 4 दिसम्बर तक सेवा प्रदायगी फेज चलेगा। लोगों को प्रजनन स्वास्थ्य के दृष्टिगत पुरुष नसबंदी की मामूली शल्य प्रक्रिया के बारे में जानकारी भी दी जाएगी।

22 नवम्बर से चार दिसम्बर तक की गतिविधियां - 

मोबिलाइजेशन फेज में  प्रत्येक एएनएम, आशा द्वारा पुरुष गर्भनिरोधक साधनों के प्रयोग के लिए इच्छुक दंपत्तियों की पहचान होगी। पुरुष नसबंदी के स्वीकार्यताओं की पहचान करते हुए उनके कार्यकाल और सहकर्मियों के मध्य पारस्परिक सहयोग एवं समझ का उपयोग करते हुए परिवार नियोजन में पुरुषों की भागेदारी के संबंध में जागरूकता संबंधी गतिविधियां होगी।

पुरुष नसबंदी के स्वीकार्यता-

पुरुष नसबंदी की सेवायें प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य इकाइयों को चिन्हित करते हुए सभी लॉजिस्टिक संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित की जायेगी। अभियान के मध्य संचार, संवाद स्थापित किए जाने के लिए पुरुष नसबंदी की स्वीकार्यता, पुरुष नसबंदी चैम्पियंस को चिन्हित किया जायेगा। पोस्टर, बैनर, पेटिंग के माध्यम से जागरूक किया जायेगा। वहीं दूसरे फेज में भी विभिन्न गतिविधियां होगी।

नोडल अधिकारी ने बताया कि विगत वर्षों की तरह भारत सरकार के निर्देश के अनुसार 22 नवम्बर से 4 दिसम्बर तक पुरुष नसबंदी पखवाड़ा मनाया जाएगा। प्रजनन स्वास्थ्य को देखते हुए पुरुष नसबन्दी बहुत ही महत्वपूर्ण है। क्योंकि, यह एक मामूली शल्य प्रक्रिया है। पुरुष नसबन्दी के लिए न्यूनतम संसाधनों व बुनियादी ढ़ांचे की जरूरत होती है।




रिपोर्ट धीरज सिंह

No comments