Breaking News

Akhand Bharat

नुक्कड़ नाटक के जरिए फाइलेरिया के प्रति जागरूकता की जगाई अलख

 


सीफार के सहयोग से ददरी मेले व अन्य स्थानों पर नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति

आज से चलने वाले एमडीए राउंड के दौरान दवा सेवन की अहमियत समझाई

बलिया, 21 नवम्बर 2021।  फाइलेरिया उन्मूलन अभियान की जन-जन तक अलख जगाने का काम रविवार को आकार फाउंडेशन के लोक कलाकारों ने किया । सेंटर फार एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफार) संस्था के सहयोग से इन कलाकारों ने जिला अस्पताल, रेलवे स्टेशन और ददरी मेले में नुक्कड़ नाटक के जरिए समुदाय को फाइलेरिया के लक्षण बताने के साथ ही उससे बचाव के तरीकों और अभियान के तहत 22 नवंबर से सात दिसंबर तक चलने वाले मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एमडीए) कार्यक्रम के दौरान निश्चित रूप से दवा सेवन का संदेश अपने अनोखे अंदाज में दिया । कलाकारों ने यह भी बताया कि दो साल से कम उम्र के बच्चों, गर्भवती और गंभीर बीमारी से ग्रसित लोगों को छोड़कर यह दवा हर किसी को खानी है । 

  “सुनो रे भैया, सुनो रे बहना, सुनो रे दादा, सुनो रे अम्मा… बात पते की आज तुम्हें बताने आया हूं…हो जाओ सावधान - तुम्हें जगाने आया हूं.... हाइड्रोसील और हाथी पांव फाइलेरिया की निशानी है…कर देता है जीवन मुश्किल, यही इसकी कहानी है…।”  इस गीत के जरिए जब इन कलाकारों ने ददरी मेले में नुक्कड़ नाटक की शुरुआत की तो उत्सुकता के साथ बड़ी संख्या में लोग वहाँ इकठ्ठा हो गए और नाटक के जरिए फाइलेरिया की गंभीरता को समझा और हर साल एमडीए राउंड में खिलाई जाने वाली दवा की उपयोगिता भी समझी ।  कलाकारों ने अपने संदेश में यह भी बताया कि सामान्य लोगों को इन दवाओं के सेवन से कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है । दवा के सेवन के बाद उल्टी, चक्कर, खुजली या जी मिचलाने जैसे लक्षण नजर आयें तो किसी भी तरह से घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि यह इस बात का प्रतीक है कि उस व्यक्ति के शरीर में फाइलेरिया के कीटाणु मौजूद हैं जो कि दवा खाने के बाद कीटाणुओं के मरने के कारण उत्पन्न होते हैं । साल में केवल एक बार फाइलेरिया रोधी दवाएं खाने से फाइलेरिया की बीमारी से बचा जा सकता है । कलाकारों की प्रस्तुति को दर्शकों ने सराहा और भरोसा दिलाया कि अभियान के तहत घर-घर पहुंचकर मुफ़्त खिलाई जाने वाली दवाओं का सेवन वह खुद करेंगे और परिवार व आस-पास के लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करेंगे । 

 सीफार के सहयोग से नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति सोमवार (22 नवंबर) को जनपद के बांसडीह ब्लॉक के वॉर्ड नम्बर-3, राजपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बांसडीह पर भी की जाएगी । नुक्कड़ नाटक आकार फाउंडेशन के शाश्वत शुक्ला, ललिता कुमारी, सपना शर्मा, अभय सिंह, मोहित कश्यप ने प्रस्तुत किया ।





रिपोर्ट धीरज सिंह

No comments