Breaking News

Akhand Bharat

जब सिर चढ़कर बोला विज्ञान का हर किसी पर जादू





बलिया। सृजनशीलता व जिज्ञासा ही विज्ञान को जन्म देती है। जीवन तथा विज्ञान एक दूसरे के पर्याय बन चुके हैं। आज नवाचार शिक्षा व  स्टार्टअप इंडिया से हम अस्सिवीं पायदान से ऊपर उठकर पूरे विश्व में तीसरे स्थान पर पहुंच चुके हैं। उक्त कथन शहर के अगरसंडा स्थित सनबीम स्कूल में बतौर मुख्य अतिथि डॉ लल्लन सिंह पूर्व कुलपति गढ़वाल विश्वविद्यालय उत्तराखंड ने दीप प्रज्वलन कर विज्ञान प्रदर्शनी की शुरुआत करते हुए कही। विशिष्ट अतिथि डॉ प्रतिभा त्रिपाठी पूर्व प्राचार्य सतीश चंद्र कॉलेज बलिया ने बच्चों की प्रतिभा की प्रशंसा करते हुए अपने उद्बोधन में कहा कि ये होनहार बच्चे कल के वैज्ञानिक हैं। इनके द्वारा बनाए गए विभिन्न वैज्ञानिक मॉडल्स का जादू सबके सिर चढ़कर बोल रहा है। उन्होंने बच्चों को सुझाव भी दिया।

      बताते चलें कि स्कूल के विशाल व खुले प्रांगण में विज्ञान प्रदर्शनी आयोजित था। मेजबानी कर रहे सनबीम स्कूल के इस आयोजन में स्वामी सहजानंद इंटर कॉलेज भरौली,  जीआईसी बलिया, पिनेकल स्कूल आदि के छात्रों ने भी अपने मॉडलस रखे थे। आधुनिक वैज्ञानिक सोच से गदगद अभिभावक बच्चों द्वारा लगे मॉडल वॉटर फिल्ट्रेशन, ऑटोमेटिक इरिगेशन मशीन, सोलर थर्मल पावर, बायोडीजल , रेन वाटर हार्वेस्टिंग , स्मार्ट विलेज ,ऑटोमेटिक स्ट्रीट लाइट , फ्यूचर साइंस ,इको एडिबल टेस्ट , वाटर राकेट फ्यूल , स्मोक कैचर आदि का अवलोकन किया। विद्यालय प्रशासन द्वारा अतिथियों को पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित भी किया गया।  अतिथियों द्वारा पिछले दिनों हुए स्पोर्ट में सभी विजेता प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र दिया गया। 

   जिला स्तरीय बाल सृजनात्मक व नवप्रवर्तन विज्ञान मॉडल के अंतर्गत निर्णायक मंडल द्वारा गौरव राय व पृथ्वी (सनबीम स्कूल) को प्रथम पुरस्कार,श्रेया केसरी,अमृतराय (स्वामी सहजानंद) को द्वितीय पुरस्कार तथा दिव्यांजलि सिंह व अनित्या (स्वामी सहजानंद) को तृतीय पुरस्कार जबकि तान्या दुबे,  प्रज्ञा राय, समृद्धि व प्रीति चौबे को सांत्वना पुरस्कार दिया गया।

    अंत में विद्यालय के निदेशक डॉ कुंवर अरुण सिंह ने अभिभावकों का आभार प्रकट करते हुए कहा कि आज हमारे देश के बच्चे देश में ही नहीं बल्कि विकसित देशों में भी ऊर्जा से भरे अपने हुनर का लोहा मनवा रहे हैं। बस उन्हें अवसर व मंच की जरूरत है। चेयरमैन संजय पांडे व सचिव अरुण सिंह ने भी बच्चों को आशीर्वचन देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। कार्यक्रम में जीआईसी के डॉ इफ्तेखार खान,  लालजी यादव, जिला विज्ञान बाल क्लब के समन्वयक सुधीर सिंह, पिनेकल स्कूल के प्रवीण पांडे, शासकीय लोकपाल धनंजय राय आदि थे।

     कार्यक्रम के सहयोग में एनसीसी कैडेट्स के छात्रों सहित एडमिन संतोष कुमार चतुर्वेदी , हेडमिस्ट्रेस ज्योत्सना तिवारी , कोऑर्डिनेटर्स स्नेहा सिंह,  शहरबानो ,नीतू पांडे, निधि सिंह, अध्यापकगण जयप्रकाश , विनीत दुबे , नवचंद्र तिवारी, सीताराम, प्रतीक यादव , नीरज सिंह , नूरुल हक , अंकिता सिंह आदि लगे रहे। संचालन कक्षा आठवीं की छात्राएं समृद्धि व आकृति ने किया।


रिपोर्ट  त्रयंबक नारायण देव गांधी

No comments