Breaking News

Akhand Bharat

ग्राम विकास अधिकारी द्वारा की गई साढ़े चार लाख वित्तीय अनियमितता की प्रधान ने सीडीओ से की जांच की मांग


 

रेवती (बलिया ): स्थानीय ब्लाक के खानपुर ग्रामसभा की प्रधान भारती पाठक ने सीडीओ और वीडियो को शिकायती पत्र देकर पहले तैनात ग्राम विकास अधिकारी उपेन्द्र यादव पर साढ़े चार लाख रूपये की वित्तीय अनियमितता करने का आरोप लगायी है। इस शिकायत के बाद उन्हें हटा कर दयाशंकर को खानपुर का चार्ज दिया है। प्रधान का आरोप है कि कार्यवाही की गति काफी शिथिल है।

उक्त जानकारी देते हुए भारती पाठक ने बताया कि ब्लाक के अधिकारियो के रवैया से गांव का विकास कार्य जितना होना चाहिए नही हो पा रहा है। उन्होंने बताया कि 50 स्ट्रीट लाइट खरीदा गया। लेकिन लगा एक भी नही। मैने प्रधान बनने के बाद 70 स्ट्रीक लाइट गांव में लगवायी हूं। गांव में डस्टबीन के लिए उपेन्द्र ने अपने रिश्तेदार के बैंक खाते में एक लाख पांच हजार ट्रांसफर किया था किंतु लगा एक भी नही,मामला संज्ञान मे आने पर 60 हजार रुपया वापस किया है। जल निकासी की व्यवस्था न होने से सामुदायिक केंद्र पर बना  शौचालय चालू नही हो पा रहा है। पंचायत भवन पर लगा इंडिया मार्का हैण्ड पम्प की रिपेयरिंग न होने से उसका उपयोग नही हो पा रहा है । वर्तमान सचिव भी सप्ताह में एक दिन गांव आते है तथा आधे घंटे के बाद चले जाते है। गांव की आबादी 3 हजार से अधिक है। केवल लाल कार्ड वालो की संख्या 84 है। वर्ष 2012 से अब तक मात्र 28 लोगो को आवास मिला है। एेसी स्थित में गांव का विकास कैसे किया जाय समझ से बाहर है। 

--------

इस सम्बन्ध में एसडीओ पंचायत विनोद पांडेय ने बताया कि ग्राम प्रधान के शिकायत पर डस्टबिन के सम्बन्ध में एक लाख पांच हजार रूपये मे 50% धनराशि वापस करा दी गई है। शेष अन्य मदों में हुई अनियमितता की जांच की जा रही है।


पुनीत केशरी

No comments