Breaking News

Akhand Bharat

धूमधाम से मनाया गया 73वां गणतंत्र दिवस


 


- *पुलिस लाइन में मुख्य अतिथि जिलाधिकारी ने ली परेड की सलामी*


- *कहा, तमाम कुर्बानियों के बाद ले रहे शानदार गणतंत्र का आनंद*


बलिया: जिले में 73वां गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया। सभी सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों पर झंडारोहण के बाद गणतंत्र दिवस के महत्व को रेखांकित किया गया। 


पुलिस लाइन में मुख्य कार्यक्रम हुआ।तमाम कमांडरों के नेतृत्व में शानदार परेड का आयोजन हुआ। परेड की सलामी मुख्य अतिथि जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने ली। उन्होंने तिरंगे रूपी गुब्बारे के साथ शांति के प्रतीक के रूप में कबूतर छोड़े। उत्कृष्ट कार्य करने वाले बहादुर पुलिस जवानों को प्रशस्ति पत्र व मेडल भी दिया गया।


बतौर मुख्य अतिथि अपने सम्बोधन में जिलाधिकारी ने कहा कि देश की स्वतंत्रता के लिए अनेक सेनानियों ने कुर्बानियां दी है, तभी आज इस चमकते सूरज के नीचे हम सब गणतंत्र दिवस का आनंद ले पा रहे हैं। आम तौर पर यह जिला पिछड़े जिलों में जाना जाता है, पर इस शुभ अवसर पर भरोसा दिलाता हूँ कि न्यायिक, प्रशासनिक, पुलिस, मीडिया के साथ जन सहयोग से बलिया को नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे। 


जिलाधिकारी ने कहा कि यहां 60 मतदान के आसपास ही लोग मतदान करने जाते हैं। यानी 40 फीसदी लोग बूथ तक नहीं जाते हैं। इसको सुधारना है। समस्त जनपदवासी यह संकल्प लें कि इस बार हर एक मतदाता बूथ तक जाएंगे और लोकतंत्र में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कराएंगे। शानदार परेड के लिए सभी कमांडर व आरक्षियों की सराहना की।


पुलिस अधीक्षक राजकरण नैय्यर ने सभी को एकता-अखण्डता बनाए रखने की शपथ दिलाई। कार्यक्रम में कॉस्टरब्रिज स्कूल, सेंट जेवियर्स स्कूल, प्राथमिक पाठशाला बेलहरी सहित अन्य स्कूली बच्चों ने एक से बढ़कर एक देशभक्ति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। स्नेहा डे ने कथक नृत्य से सबका मन मोह लिया। सेनानी व उनके आश्रितों को सम्मानित भी किया गया।


इस अवसर पर जिला जज विकार अहमद अंसारी, एडीएम राजेश कुमार, एएसपी विजय त्रिपाठी, सीओ प्रीति त्रिपाठी, सूचना अधिकारी अनुराग रंजन सहित अन्य न्यायिक, प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों के साथ अन्य लोग मौजूद थे।

---

*जागरूकता से मिलेगी वह व्यवस्था, जिसके आप हैं असली हकदार*


बलिया: कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने झंडारोहण करने के बाद कलेक्ट्रेट कर्मियों को भारत की प्रभुता व अखण्डता अक्षुण्य रखने की शपथ दिलाई। इसके बाद कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित गोष्ठी में सेनानी व उनके आश्रितों को अंगवस्त्र व मिष्ठान देकर सम्मानित किया। 


उन्होंने कहा कि तमाम कुर्बानियों के बाद देश को यह आजादी मिली। अब समाज व राष्ट्र का स्वरूप बदल रहा है। अब विकास के दौर में देश को आगे ले जाना है। हर एक बालक-बालिकाओं को शिक्षित करना है। हम सब जागरूक रहेंगे तभी वह व्यवस्था मिलेगी, जिसके आप सब हकदार हैं। 


यह भी आवाह्न किया कि आगामी 3 मार्च को जिले के सभी लोग मतदान करने का संकल्प लें, ताकि बलिया का नाम मतदान प्रतिशत में टॉप पर रहे। सेनानी रामविचार पांडेय ने कहा कि गणतंत्र तभी लागू हुआ, जब देश स्वतन्त्र हुआ। स्वतंत्रता आंदोलन की क्रांतिकारी यादों को भी साझा किया। इस अवसर पर एडीएम राजेश कुमार, शिवकुमार कौशिकेय सहित कलेक्ट्रेट के अन्य अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।

-- 

*सेनानी के घर जाकर किया सम्मान*


सिकन्दरपुर क्षेत्र के खरीद निवासी स्वतंत्रता सेनानी रामरक्षा गोंड को स्थानीय प्रशासन ने अंगवस्त्रम स्थान भेंट कर सम्मानित किया। नायब तहसीलदार सुनील कुमार, लेखपाल मनोज यादव, लेखपाल सचिन यादव सहित ग्रामीण मौजूद थे।


रिपोर्ट  -त्रयंबक नारायण देव गांधी

No comments