Breaking News

Akhand Bharat

स्वास्थ्य इकाइयों पर आज मनेगा खुशहाल परिवार दिवस


 

- नव-विवाहित दंपति को परिवार-नियोजन के साधनों के बारे में बास्केट ऑफ़ च्वाइस के माध्यम से दी जायेगी जानकारी 

बलिया, 20 जनवरी 2022:अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व  परिवार कल्याण कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ० एसके तिवारी ने बताया कि शुक्रवार को  खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों , शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों  और जिला महिला चिकित्सालय में किया जायेगा।  समुदाय में परिवार नियोजन के बारे में  जागरूकता बढ़ाने के मकसद से आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम में चिन्हित दंपति को परिवार नियोजन के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी | 

खुशहाल परिवार दिवस पर इच्छुक महिलाओं को त्रैमासिक गर्भनिरोधक इंजेक्शन अंतरा की सुविधा मिलेगी, साप्ताहिक गर्भ निरोधक गोली छाया, कंडोम, ई-पिल्स, माला-एन की गोली वितरित की जायेगी और कॉपर-टी, व पीपीआईयूसीडी लगवाने के साथ नसबंदी से होने वाले लाभ की जानकारी भी प्रदान की जायेगी। इसमें से कोई भी साधन अपनाने के लिए महिलाओं को प्रेरित भी किया जाएगा । 

डॉ तिवारी ने बताया कि आशा कार्यकर्ताओं को प्रेरित किया गया है कि लक्षित दंपति को परिवार कल्याण की सेवाएं लेने के लिए जागरूक करें तथा इच्छुक लाभार्थियों को स्वास्थ्य केंद्र तक लाकर उन्हें परिवार कल्याण की सेवाएं प्रदान कराएं |  इसके साथ ही कोरोना संक्रमण के चलते सही तरीके से मास्क लगाने, भीड़-भाड़ से बचने व हाथों को बार-बार सेनेटाइज करने के लिए भी प्रेरित करें। 

उन्होंने बताया कि  इस कार्यक्रम का उद्देश्य मुख्य रूप से नव-विवाहित दंपति ,एक जनवरी 2020 के उपरांत जटिल गर्भावस्था की प्रसूताएँ तथा एक या दो से अधिक बच्चों वाले योग्य दंपति को परिवार नियोजन के साधनों से जोड़ना है। कार्यक्रम से पहले ऐसी महिलाओं को चिन्हित किया गया है,  जिनमें गर्भावस्था की जटिलताएं है। चिन्हित महिलाओं और नव-विवाहित दंपति को परामर्श भी दिया जायेगा,जो उन्हें परिवार नियोजन अपनाने के लिए सहायक होगा। जटिल गर्भावस्था की प्रसूताओं को जोखिम से बचाने के लिए उन्हें परिवार नियोजन के साधनों से जोड़ना बहुत ही आवश्यक है। नव-विवाहित दंपति को परिवार नियोजन के साधनों के बारे में बास्केट ऑफ़ च्वाइस के माध्यम से जानकारी दी जायेगी। आशा कार्यकर्ता इसके लिए परामर्श सेवाएं भी दे रही हैं।


रिपोर्ट  -त्रयंबक नारायण देव गांधी

No comments