Breaking News

Akhand Bharat

जिलाधिकारी ने किया सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान का शुभारंभ


 

- गर्भवती और बच्चों का टीकाकरण करायें, जीवन खुशहाल बनायें  

बलिया, 7 मार्च 2022 

जिला महिला अस्पताल के प्रांगण में सोमवार को जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने सघन मिशन इंद्रधनुष 4.0 अभियान का शुभारंभ किया। जनपद में दो वर्ष तक के छूटे हुये बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को प्रतिरक्षित करने के उद्देश्य से अभियान की शुरुआत की गयी। 

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने दो वर्ष तक के बच्चों को पोलियो ओपीवी ड्रॉप पिलाई। वहीं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नीरज कुमार पाण्डेय, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ ए के तिवारी ने भी बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाते हुये उनके अभिभावकों को प्रोत्साहित किया।  

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ ए के तिवारी ने बताया कि नवजात शिशुओं और बच्चों में होने वाली जानलेवा बीमारियों जैसे- पोलियो, खसरा-रूबेला, डायरिया, डिप्थीरिया, टिटनेस, काली खांसी आदि से बचाने के लिए संपूर्ण टीकाकरण बेहद जरूरी है। सरकार नवजात शिशुओं और बच्चों को इन बीमारियों से बचाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

उन्होंने बताया कि इंद्रधनुष के सात रंगों को प्रदर्शित करने वाले इस मिशन का उद्देश्य है कि सभी बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का  टीकाकरण। यह अभियान तीन चरणों क्रमशः पहला चरण 7 मार्च से 15 मार्च, दूसरा 4 अप्रैल से, तीसरा 2 मई  से चलाया जाएगा। यह अभियान जिले के समस्त ब्लॉकों में चलाया जा रहा है। 

डॉ ए के तिवारी ने जनता से अपील किया कि अपने घर परिवार में कोई गर्भवती महिला एवं जन्म से लेकर दो वर्ष तक के बच्चों का टीकाकरण अवश्य कराएं। इस अभियान के तहत निकटतम स्वास्थ्य केंद्रों में जाकर टीके लगवाकर जानलेवा बीमारियों से बचाव करें। यदि बच्चों का टीकाकरण समय से कराते हैं तो बच्चे जीवन भर स्वस्थ और खुशहाल रहेंगे । अभियान में ईट-भट्ठों और निर्माण साइटों पर रहने वाले परिवारों के टीकाकरण पर जोर दिया जाएगा, क्योंकि इन दोनों स्थानों पर रहने वाले परिवार एक से दूसरे जगह स्थानांतरित होते रहते हैं। इसलिए सामान्य अभियान के दौरान इनके छूट जाने की आशंका बनी रहती है। टीकाकरण न होने वाले या फिर आंशिक टीकाकरण वाले बच्चों को अभियान के तहत ग्यारह तरह की बीमारियों से बचाने वाले टीके लगाए जाएंगे।

इस मौके पर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ सुमिता सिन्हा, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी/ जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ आनंद कुमार, वरिष्ठ बाल रोग विशेषज्ञ डॉ० सिद्धार्थ मणि दुबे, जिला कार्यक्रम प्रबंधक डॉ आरबी यादव, चाई संस्था के प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर धर्मेंद्र तिवारी, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ ड़ॉ, नकीबुलजमा, यूनिसेफ के डीएमसी नसीम खान, यूपी टीएसयू  के अजय कुमार ,काजीपुरा के अधीक्षक डॉ अतुल कुमार, बीएमसी सबा, कोल्ड चैन मैनेजर मोहम्मद अबरार आदि लोग उपस्थित रहे।


रिपोर्ट त्रयंबक नारायण देव गांधी

No comments