Breaking News

Akhand Bharat

अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा मनियर के पोखरी और तालाब



 




चिलकहर-एक तरफ सरकार अपने 100 दिन के अंदर सभी ग्राम पंचायतों में पोखरी और तालाब का निर्माण कराने के लिए आदेश दे चुकी है इतना ही नहीं पूरे प्रदेश में मंत्री और कैबिनेट मंत्री हर एक जिले में जाकर के 100 दिन के अंतर्गत पोखरे और तालाब का निर्माण कराने के लिए अधिकारियों को आदेश दे रहे हैं , लेकिन मछली मारने वाले मोटर और दमकल  लगा कर के गांव की पोखरी और तालाब से पानी निकालने का काम कर रहे हैं मछली मारने के लिए जिससे पशु और पक्षियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है गेहूं की कटाई हो जाने के बाद लोग पशुओं को चराने के लिए खेतों में छोड़ देते हैं और वह पशु घूमते घूमते तालाब में जाकर के पानी पीते हैं लेकिन पोखरी और तालाबों से मछली मारने वाले पानी निकाल दे रहे हैं गांव के पोखरे से पानी निकल जाने के कारण हैंडपंप की मशीनें पानी छोड़ना चालू कर दी हैं, लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है हैंडपंप गाड़ने वाले मिस्त्री से बात करने पर पता चला कि गांव का पानी का जल स्तर कम होने के वजह से मशिन पानी छोड़ रही है, हैंडपंप गाने वाले मिस्त्री ने बताया कि गांव के पोखरी और तालाबों से पानी के निकल जाने के कारण गांव के मशीनों का जलस्तर घट जा रहा है इस वजह से मशीनें पानी छोड़ना चालू कर दे रही है मछली मारने वाले बेधड़क पोखरी और तालाबों का पानी निकाल कर मछली मारने का काम कर रहे हैं।

No comments