Breaking News

Akhand Bharat

विद्युत उपकेन्द्र रतसर में 33 केवी लाइन का तार टूटने से 142 गांव की बिजली गुल

 


रतसर(बलिया) करमौता से स्थानीय विद्युत उपकेन्द्र को आ रही 33 केवी लाइन का तार टूटने से विद्युत आपूर्ति ठप हो गई। जिसके कारण 142 गांव की लाखों की आबादी पूरी रात अंधेरे में डूब गई।  सुबह 8 बजे लाइन को चालू कर दिया गया। करमौता 132 केवी सब स्टेशन से विद्युत उपकेन्द्र रतसर के लिए 33 केवी की लाइन आ रही है। बुद्धवार की शाम पांच बजे रक्सा डिग्री कालेज के समीप जम्फर टूट गया। इसके कारण उपकेन्द्र की लाइन ठप हो गई। मौके पर पहुंच कर बिजली कर्मियों ने फाल्ट दूर किया। लेकिन घंटे भर बाद पुनः रक्सा डिग्री कालेज से दो सौ मीटर की दूरी पर इन्सूलेटर पंचर एवं तार टूटने के कारण विद्युत आपूर्ति पूरी तरह ठप हो गई। रात में ही जेई अपने कर्मियों के साथ फाल्ट ठीक करने का अथक प्रयास किया लेकिन रात में अंधेरा एवं पोल के नीचे जलभराव के कारण फाल्ट ठीक नही हो पाया। सुबह मौके पर पहुंचे बिजली विभाग के कर्मियों ने 8 बजे के करीब विद्युत आपूर्ति बहाल कर दिया। विद्युत आपूर्ति बाधित होने से 142 गांव अंधेरे में डूब गए। गर्मी होने के कारण लोगों को अधिक परेशानी हुई वहीं बिजली न रहने के कारण लोग पानी के लिए तरस गए। जेई जितेन्द्र कुमार ने बताया कि 33 केवी लाइन का तार टूटने के कारण सप्लाई बाधित हो गई थी। इन्सुलेटर एवं तार जोड़ने के बाद लाइन को सुबह चालू कर दिया गया है। गर्मी अधिक पड़ने के कारण लाइनों पर लोड भी अधिक पड़ रहा है। मौके पर राजेश यादव,जिशान खान, ब्रजेश तिवारी,दद्दन अवधेश,जयप्रकाश, बच्चालाल,मोतीलाल, रंजीत,विवेक,सुमित सिंह आदि कर्मचारी मौजूद रहे।



रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments