Breaking News

Akhand Bharat

जर्जर सड़क पर चलने को मजबूर है राहगीर, विभाग के साथ-साथ जनप्रतिनिधि भी मौन

 



रतसर (बलिया) ग्रामीण क्षेत्र की सड़कों का हाल बेहाल है। सड़कें पूरी तरह से जर्जर हो गई है। जिसके चलते लोगों को आवागमन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। सबसे खराब स्थिति जनऊपुर गांव से एकडेरवा- बारावांध होते हुए ब्लाक मुख्यालय जोड़ने वाली सड़क की है। जहां सड़क पर बड़े- बड़े गड्ढे उभर आए है। सड़को में गड्ढे होने के कारण आए दिन दुर्घटनाएं भी हो रही है इसके बाद भी इस ओर कोई ध्यान नही दे रहे है। जिसका खामियाजा राहगीरों को भुगतना पड़ रहा है। ग्रामीणों के शिकायत के बावजूद भी जिम्मेदार अधिकारी व क्षेत्रीय विधायक इस ओर ध्यान नही दे रहे है। ग्रामीणों का कहना है कि सड़क के जर्जर होने के कारण आने-जाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। क्षेत्र के ग्रामीणों ने बताया कि वर्तमान सड़क इतनी खस्ताहाल एवं जर्जर हो चुकी है कि गड्ढों और गिट्टी के अलावा कुछ भी नजर नही आ रहा है। वहीं ब्लाक मुख्यालय गड़वार जाने के लिए इस मार्ग का सबसे ज्यादा उपयोग किया जाता है। ग्रामीणों ने बताया कि चुनाव से पहले जन प्रतिनिधि मंच से सड़क निर्माण को लेकर ऐसे घुट्टी पिलाते है मानो चुनाव समाप्त होने के बाद तत्काल सड़क का निर्माण करा दिया जाएगा। सड़क पर पिच पुरी तरह उखड़ गया है। इसमें जगह- जगह गड्ढे हो गए है। स्कूल आने-जाने वाले छात्रों के लिए मुसीबत बन गया है। जर्जर होने के कारण वाहन चलना तो दूर पैदल चलने वाले राहगीरों का चलना भी मुश्किल हो गया है।इसके बावजूद भी जिम्मेदार जनप्रतिनिधि और अधिकारियों द्वारा ध्यान नही दिया जा रहा है। इसको लेकर लोगों में खासा आक्रोश देखा जा रहा है।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments