Breaking News

Akhand Bharat

क्रांतिकारी उधम सिंह के शहादत दिवस पर सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगा किया प्रदर्शन,सौंपा ज्ञापन

 


रतसर (बलिया) संयुक्त किसान मोर्चा के तत्वाधान में किसान फोर्स,लोक शक्ति क्रांति एवं किसान युनियन नेताओं द्वारा केन्द्र सरकार की किसानों से वादा खिलाफी को लेकर रविवार को क्रांतिकारी उधम सिंह के शहादत दिवस के अवसर पर स्थानीय नगर पंचायत के बीका भगत के पोखरे से गांधी आश्रम तक रैली निकालकर प्रदर्शन किया तथा महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधान मंत्री को संबोधित सात सूत्रीय ज्ञापन थानाध्यक्ष गड़वार श्रीधर पाण्डेय को सौंपा। इस अवसर पर किसान फोर्स के संस्थापक ए.के.सिंह ने बताया कि दिसम्बर 2021 में संयुक्त किसान मोर्चा ने सरकार के आश्वासन पर भरोसा करके दिल्ली बार्डर से अपना मोर्चा उठाने का एलान किया था। उस लिखित समझौते से सरकार मुकर रही है। लोक शक्ति क्रांति दल के लालू तिवारी ने कहा कि मानसून सत्र में केन्द्र सरकार ने एमएसपी पर किसान विरोधी कमेटी की घोषणा की जिसमें काले तीन कृषि कानूनों को बनाने वाले कृषि सचिव संजय अग्रवाल,नीति आयोग के रमेशचन्द्र आदि सदस्यों को पहले ही नामित कर दिया है जो पहले से ही किसान आंदोलन के खिलाफ जहर उगलते है। इस कमेटी में एमएसपी पर कानून बनाने का कोई जिक्र नही है। इस लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने इस कमेटी को खारिज कर दिया है। सरकार से हम मांग करते है कि किसान विरोधी कमेटी को भंग कर सी-टू प्लस 50 प्रतिशत के आधार पर एमएसपी गारंटी कानून बनाया जाय,किसान आन्दोलनकारिओं पर फर्जी मुकदमें वापस हो, शहीद किसानों को मुआवजा दे,अग्नि पथ योजना रद्द करें,लखीमपुर खीरी कांड के अपराधी गृह राज्यमंत्री को बर्खास्त कर गिरफ्तार करें,नहरों में टेल तक पानी देने के साथ ही जनपद को सूखाग्रस्त क्षेत्र घोषित करें,फसल बीमा योजना लागू करें एवं डीजल,पेट्रोल एवं गैस की कीमतों पर रोक लगाएं। इस अवसर पर विक्रान्त पाण्डेय,श्रीकान्त यादव, फूलेना चौहान,उपेन्द्र सिंह,अशोक सिंह,अजय सिंह,जमाल अहमद, अनिल राजभर, गोरख यादव, गरीब राजभर,चांद मुनी देवी,प्रभावती देवी, सुनयना देवी सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments