Breaking News

Akhand Bharat

सूखे ताल पोखर, जानवर भटक रहे प्यासे

 



रतसर (बलिया) सावन के महीने में बादल उमड़ घुमड़ के तो आ रहे है लेकिन पानी नही बरस रहा है। गड़वार विकास खण्ड क्षेत्र के गांवों में तालाब सूखे पड़े हुए है। लगातार बढ़ रही सूरज की तपिश से जहां इंसान परेशान हैं, वहीं तालाबों और पोखरों में पानी न होने के कारण पशु-पक्षियों का बुरा हाल है। गर्मी के मौसम में तालाब ही पशु,पक्षियों के लिए पानी का साधन होते हैं। यह तालाब भी सूखे पड़े हुए है। प्यास से व्याकुल होकर पक्षी दम तोड़ रहे हैं। तालाबों में इस बरसात का नाम मात्र पानी भरा है। अधिकांश ग्रामों में लगे इंडिया मार्का हैंडपंप भी जबाब देने लगें है। कई गांवों में निजी एवं सार्वजनिक भूमि पर वर्षो पुराने तालाबों को या तो पाट दिया गया है या उस पर अतिक्रमण के कारण अस्तित्व ही खत्म कर दिया गया है। प्रशासन तालाब पाटने वालों पर अंकुश नहीं लगा पा रहा है। इससे जल संग्रहण भी कम हुआ है।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments