Breaking News

Akhand Bharat

बच्चों के सेहत से किया जा रहा खिलवाड़, जिम्मेदार मौन

 




रतसर (बलिया) देश के भविष्य के साथ किस तरह खिलवाड़ किया जा रहा है इसका जीता जागता उदाहरण शिक्षा क्षेत्र गड़वार के कम्पोजिट विद्यालय जनऊपुर में देखा जा सकता है। संक्रामक बीमारियों से बचने के लिए चिकित्सकों सहित विशेषज्ञों द्वारा शुद्ध पानी पीने की सलाह दी जाती है। परन्तु गड़वार ब्लाक क्षेत्र में कुछ ऐसे परिषदीय विद्यालय हैं, जहां या तो हैंडपंप खराब हैं अथवा दूषित जल उगल रहे हैं। ऐसे में स्कूली बच्चों की सेहत कब बिगड़ जाए कुछ कहा नहीं जा सकता है। शिक्षा विभाग से लेकर ग्राम पंचायत के जिम्मेदार इस दिशा में उदासीन बने हुए हैं। जनऊपुर ग्राम पंचायत स्थित कम्पोजिट विद्यालय जनऊपुर में एक इंडिया मार्का हैंडपंप विगत दो माह से खराब पड़ा है।जब कि एक हैंडपंप से दूषित पानी निकल रहा है। पेयजल के लिए बच्चों को परेशान होना पड़ता है। मिड-डे मील योजना अंतर्गत भोजन बनाने में भी दिक्कतें आ रही है। प्रधानाध्यापक एस.एन. राम ने बताया कि पेयजल संकट के चलते बच्चों को घर से पानी लाना पड़ता है। इसकी शिकायत की गई, लेकिन हैंडपंप ठीक नही कराए गए। ग्राम प्रधान सहित अन्य जिम्मेदारों को भी सूचना दी गई है बावजूद आज तक कोई कार्यवायी नही हुई वहीं विद्यालय में बिजली की भी व्यवस्था नही है जिसके कारण स्कूल में लगा समरसिबल भी शो पीस बना हुआ है।



रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments