Breaking News

Akhand Bharat

जनपद मे पांच से 16 वर्ष तक के बच्चों को लग रहा है डिप्थीरिया का टीका

 


रिपोर्ट : धीरज सिंह


- अभिभावक निःशुल्क टीकाकरण का उठायें लाभ 


बलिया : मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० जयन्त कुमार ने बताया कि जनपद में सोमवार से किसी भी कारणवश छूटे हुए पांच वर्ष से 16 वर्ष तक के बच्चों का नियमित टीकाकरण किया जा रहा हैl इस संबंध में शासन की तरफ से पत्र जारी किया गया है। पत्र में उल्लेख है कि प्रदेश के आठ  जिलों में डिप्थीरिया और मीजल्स रूबेला के केस निकले हैं। इसलिए यह अभियान संवेदनशील जिलों में चल रहा हैl नियमित टीकाकरण सत्र पहले की तरह बुधवार व शनिवार को आयोजित होंगे। उन्होंने जनपदवासियों से अपील की है कि विशेष अभियान का लाभ उठाकर अपने बच्चों का टीकाकरण अवश्य कराएं।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ० वीरेंद्र कुमार ने बताया कि नियमित टीकाकरण विशेष अभियान के तहत जिले में सभी  सरकारी विद्यालय स्तर पर छूटे हुए बच्चों में डीपीटी पांच से सात वर्ष तक के बच्चों को, टीडी सात से 16 वर्ष के बच्चों को, तथा जेई वैक्सीन  छूटे हुए बच्चों को लगायी जा रही है। उन्होंने बताया की विशेष अभियान के दौरान कोविड टीकाकरण की गतिविधियों के कारण कोई नियमित टीकाकरण सत्र प्रभावित नहीं होगा।

 *क्या है डिप्थीरिया-* 

 डिफ्थीरिया छोटे बच्चों का एक संक्रामक रोग है। यह अक्सर दो वर्ष से लेकर 10 वर्ष तक की आयु के बच्चों में अधिक होता है। यह बीमारी कॉरीनेबैक्टेरियम डिप्थीरिया नामक बैक्टीरिया के संक्रमण से होती है। यह बीमारी अक्सर बच्चों की पेंसिल, लेखनी आदि वस्तुओं को मुंह में रखने और कफ से दूसरे लोगों में फैलती है l यह बैक्टीरिया टांसिल व श्वांस नली को संक्रमित करता है। संक्रमण से झिल्ली बन जाती है जिससे सांस लेने में रुकावट पैदा होती है। कुछ मामलों में मौत भी हो जाती है।

No comments