Breaking News

Akhand Bharat

विशिष्ट बी.टी.सी.शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन मुरलीछपरा के अध्यक्ष बने सूर्यप्रकाश वर्मा व मंत्री मनीष कुमार मिश्रा

 


रिपोर्ट : धीरज सिंह


बलिया :  27 दिसम्बर 2022 को विशिष्ट बी.टी.सी.शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन बलिया के मुरलीछपरा ब्लॉक का ऐतिहासिक अधिवेशन/चुनाव प्राथमिक विद्यालय भोजापुर के प्रांगण में सम्पन्न हुआ।

अधिवेशन का उदघाटन बतौर मुख्य अतिथि जिलाध्यक्ष डॉ.घनश्याम चौबे,संरक्षक अरुण कुमार सिंह,महामंत्री धीरज राय व वरिष्ठ उपाध्यक्ष अवनीश सिंह ने संयुक्त रूप से माँ सरस्वती के तैल चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर किया।

अधिवेशन उदघाटन उद्बोधन में मुख्यातिथि डॉ. घनश्याम चौबे ने कहा कि जब जब शिक्षक हितों और सम्मान की बात आई है तब तब विशिष्ट .बी.टी.सी.शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन ही संघर्ष  किया है।एक एक शिक्षक समस्याओं के समाधान और सम्मान के लिये हम दृढ़ संकल्पित है।जिलाध्यक्ष डॉ. घनश्याम चौबे ने हर एक शिक्षक समस्याओं के समाधान के लिये अपनी प्रतिबद्धता दुहराते हुये कहा कि अगर शिक्षक हितों की रक्षा व जायज पावनाओं के लिये अगर किसी संगठन ने संघर्ष किया है तो वह विशिष्ट बी.टी.सी.शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन ही है।शिक्षकों की पद्दोन्नति ,पदस्थापन,चयन वेतनमान निर्धारण,जायज पवनाओं के भुगतान या उत्पीडन के खिलाफ अगर किसी संगठन नें दमदारी से आवाज उठाया है या संघर्ष किया है तो वह एसोसिएशन ही है। डॉ. चौबे ने कहा  कि हम दो संकल्प लेकर आप के बीच मेंआये हैं पहला यह कि ब्लॉकों में मुख्य रुप से शिक्षक उत्पीडन के लिये जिम्मेदार मठाधिसी व्यवस्था को ध्वस्त करना और दूसरा नौकरशाही उत्पीड़नों पर लगाम लगाना और यह तब ही संभव हो पायेगा जब हम संगठित हों क्यों कि जब-जब विभागीय अधिकारी और उनके सिपहसलार शिक्षकों के शोषण और उत्पीड़न की मंशा लेकर बेलगाम हुये हैं तब-तब विशिष्ट बी.टी.सी.शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन ने ही अपने संघर्षो के दम पर लगाम लगाने का काम किया है। अपने उद्बोधन के क्रम में वरिष्ठ उपाध्यक्ष अवनीश कुमार सिंह ने कहा कि इसे नकारा नहीं जा सकता कि जब-जब शिक्षक हितों और सम्मान की बात आई है केवल और केवल एसोसिएशन ही संघर्ष का रास्ता अख्तियार किया है और तद्समय तथा-कथित स्वयम्भू शिक्षक नेताओं की गुलदस्ता संस्कृति ने विभागीय अधिकारियों का नापाक इरादों वाला हौसला अफ़जाई करने का काम किया है।विशिष्ट बी.टी.सी.शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन ही एकमात्र ऐसा संगठन है जो संघर्षी में विश्वास करता है।श्री सिंह ने तथाकथित स्वयम्भू नेताओ को आड़े हाँथ लेते हुये कहा कि कभी तो चंदा, चुनाव और चाटुकारिता से बाहर निकल कर शिक्षक हितों की बात कर लिया करें।

महामंत्री धीरज राय ने कहा कि जनपद में कार्यवाहियों का भय दिखा कर शिक्षकों के उत्पीड़न व शोषण का गोरखधंधा फल -फूल रहा है और इसे नकारा नहीं जा सकता कि अधिकारी और तथा-कथित स्वयम्भू शिक्षक नेताओं का गठजोड़ इसके लिये जिम्मेदार है। श्री राय ने अपने उद्बोधन के क्रम में शिक्षकों का आह्वान करते हुये कहा कि एक -एक शिक्षक समस्याओं के समाधान एवं सम्मान के लिये हमे एसोसिएशन के बैनर तले संगठित होकर आवाज उठाने की आवश्यकता है क्यों कि जब जब शिक्षक उत्पीडन बढ़ा है विशिष्ट बी.टी.सी.शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन ने ही दमदारी से उसका प्रतिरोध किया है। उन्हों ने कहा कि हम चलेंगे साथ-साथ डाले हाँथों में हाँथ,हम होंगे कामयाब एक दिन के संकल्प को लेकर चलना होगा तभी हम शिक्षक समस्याओं का समाधान और सम्मान की रक्षा कर पाएंगे।

जिला संरक्षक अरुण कुमार सिंह ने कहा कि एसोसिएशन ही एकमात्र ऐसा संगठन है जो एक -एक शिक्षकों की आवाज बन उनके हितों के लिए आवाज उठता है।किसी भी दशा में किसी भी शिक्षक का उत्पीडन नहीं होने दिया जाएगा इसके लिये एसोसिएशन दृढ़ संकल्पित है।

बांसडीह के मंत्री सुरेश वर्मा ने  कहा कि हर शिक्षक समस्याओं के समाधान व सम्मान के लिये एसोसिएशन दृढ़ संकल्पित है।

अधिवेशन के प्रथम सत्र को संबोधित करते हुये बांसडीह के ऑडिटर सुनील गुप्ता ने शिक्षक हितों के संकल्प की प्रतिबद्धता दुहराते हुये हर चुनौतियों का सामना अगली कतार में खड़े रह कर करने की बात कही ।

बतौर अतिथि रेवती ब्लॉक के अध्यक्ष अरविन्द श्रीरश्मि ने ऊर्जावान नवनियुक्त शिक्षक साथियों का आह्वान करते हुये कहा कि एसोसिएशन ही ऐसा विशिष्ट शिक्षक संगठन है जो हमेशा ही एक - एक शिक्षकों की आवाज बनाने का काम करता है ऐसे में हमारा यह दायित्व बनता है कि हम संगठित होकर एसोसिएशन को अपनी ऊर्जा से अभिसिंचित कर मजबूत करें ताकि शिक्षक हितों की रक्षा हो सके।

अधिवेशन के दूसरे सत्र में सैकड़ों शिक्षकों ने सर्वसम्मति से ब्लॉक के पदाधिकारियों का चुनाव किया।ब्लॉक अध्यक्ष के पद पर सूर्यप्रकाश वर्मा व मंत्री के पद पर मनीष कुमार मिश्रा का निर्विरोध चुनाव हुआ साथ ही वरिष्ठ उपाध्यक्ष के पद पर अतुल कुमार तिवारी ,उपाध्यक्ष के पद पर अभिनव कुमार सिंह,मंजीत गौतम संगठन मंत्री के पद पर भानु प्रकाश मिश्रा, अजय आनन्द, अरविन्द कुमार तिवारी संयुक्त मंत्री के पद पर भानुप्रताप ,अमित कुमार साहू कोषाध्यक्ष के पद पर आनन्द जैसवाल का निर्विरोध निर्वाचन हुआ। पूरे सदन ने एक स्वर से वेद प्रकाश पांडेय को अपना संरक्षक चुना।

पद और गोपनीयता की शपथ जनपद द्वारा नामित चुनाव अधिकारी सुरेश वर्मा मंत्री बांसडीह व सुनील कुमार गुप्ता ऑडिटर बांसडीह व नंदलाल मौर्य संरक्षक बांसडीह ने दिलाई। अधिवेशन में सैकड़ों शिक्षकों ने भाग लिया।

अधिवेशन की अध्यक्षता जितेन्द्र कुमार तिवारी व संचालन भानुप्रकाश द्विवेदी ने किया।

अधिवेशन में मुख्य रूप से प्रेम शंकर पाठक,शशिकांत सिंह,तरुण कुमार दुबे,बृजबिहारी उपाध्याय,विनोद यादव,शशिकांत,अमरजीत यादव,भगत सिंह,विनय कुमार,आशुतोष त्रिपाठी,अभय कुमार,तरुण कुमार,आशीष,पवन,शिवशंकर राम,विनय कुमार वीणा, सर्वजीत,राहुल कुमारआदि रहे।

No comments