Breaking News

Akhand Bharat

युवाओ द्वारा करायी गयी वर्तमान परिस्थितियों में परिवर्तित होता समाज,कारण ,चुनौतियां , समाधान विषय पर परिचर्चा




मनियर (बलिया) स्थानीय कस्बा के मनियर इण्टर कालेज के मनोरंजन हाल  में गुरुवार की शाम  को जागरूक युवाओं के तत्वावधान में" वर्तमान परिस्थितियों में परिवर्तित होता समाज- कारण, चुनौतियाँ एवं समाधान " विषयक परिचर्चा का आयोजन किया गया | इस दौरान बक्ताओ ने  गरीबी ,भुखमरी, महगाई, स्वास्थ सम्बन्धि आदि मुलभुत समस्याओ पर प्रकाश डालते हुए  कहा कि वर्तमान समय में मानव जीवन के हर क्षेत्र में पुरानी पीढ़ी के बरक्स नयी पीढ़ी में काफी परिवर्तन दिखाई दे रहा है |नयी पीढ़ी  व पुरानी पीढी के राजनेताओं के सिद्धांत और व्यवहार में कोई मेल नहीं है | सत्ता के शिखर पर पहुँचने के लिए जातिवाद, सम्प्रदायवाद, क्षेत्रवाद जैसे राष्ट्र विरोधी विचारों को बढ़ावा दिया जा रहा है | बाजारवाद ने सामूहिक चेतना पर आधारित हमारी जन संस्कृति को उपभोक्ता संस्कृति में परिवर्तित कर दिया है|  सहकारी सोच पर आधारित संयुक्त परिवार का स्थान एकल परिवार ने ले लिया है| गांधी जी कहते थे कि मनुष्य को जब अपनी गरीबी दिखायी दे तो उस व्यति को देखना चाहिए  जो अन्तिम पायदान पर खडा़ है  । परिवर्तन प्रकृति का नियम है हमे स्वंय को परिवर्तित करना होगा । इस अवसर पर डाॅ जगदीश प्रसाद, कामरेड श्रीराम चौधरी, अमरजीत मानववंशी , राम प्रकाश गुप्ता,अमरनाथ यादव, रविन्द्र सिंह, विजय प्रकाश गुप्ता, कामरेड जगदीश ने परिचर्चा को सम्बोधित किया | तत्पश्चात प्रश्नोत्तर काल में श्रोताओं ने वक्ताओं से तत्संबंधित विषय पर विभिन्न सवाल पुछे जिसका जवाब वक्ताओं ने दिया | परिचर्चा का संचालन नीरज मिश्रा एवं मदन सिंह द्वय ने किया | परिचर्चा का विषय प्रवेश पुरन्जय शर्मा ने किया |कार्यक्रम के समापन के पश्चात अमित सिंह उर्फ रिंकू सिंह ने आगंतुकों का आभार व्यक्त किया  इस मौके पर विनय सिह| मिटुं मंटु सिह बसन्त कुमार सिह  बशिष्ठ राजभर  दिनेश राजभर आदि लोग रहे ।


प्रदीप कुमार तिवारी

No comments