Breaking News

Akhand Bharat

बाढ़ पीड़ितों की मदद नहीं कर रहा प्रशासन: रामगोविंद

 



रिपोर्ट : धीरज सिंह


बलिया। जब देश की सभी नदियां अपने मूल स्वरूप में आ गई हैं उस समय घाघरा नदी में अचानक आई बाढ़ से जनपद के मनियर नगर पंचायत से लेकर ग्रामसभा भोजछपरा तक घागरा के किनारे बसे गांव में हाहाकार मचा हुआ है और शासन सत्ता के तरफ से उस गांव में निवास कर रहे नागरिकों की सुविधा हेतु कोई भी साधन मुहैया नहीं कराया जा रहा है। मनियर से लेकर भोज छपरा तक आई इस बाढ़ एवं कटान से तटीय इलाकों के किसान जिन की फसलें बर्बाद हो रही हैं तथा खेत कट कर नदी में विलीन हो रहे हैं साथ ही मकान भी पानी में विलीन हो रही है शासन के तरफ उम्मीद भरी निगाहों से देख रहे हैं जिन्हें निराशा हाथ लगी है उक्त बातें उत्तर प्रदेश विधानसभा में पूर्व मे नेता प्रतिपक्ष रहे  राम गोविंद चौधरी ने प्रेस को जारी अपने एक बयान में कही शुक्रवार को जारी अपने बयान में श्री चौधरी ने कहा कि बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों की बिजली काट दी गई है ऐसे में वहां के निवासियों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है जिला प्रशासन को तत्काल बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में मिट्टी का तेल मोमबत्ती एवं अन्य राहत सामग्री वितरित करना चाहिए। जगह जगह जनरेटर भी लगाना चाहिए।अगर प्रशासन तत्काल वहां के निवासियों के बेहतरी के लिए ठोस कदम नहीं उठाया तो समाजवादी पार्टी इस समस्या के समाधान हेतु सड़क उतरेगी।

       रामगोविंद चौधरी ने कहा की जिला प्रशासन तत्काल उन गांव में नाव की व्यवस्था करें एवं तिरपाल तथा भोजन सामग्री का वितरण करें इस बार में सबसे अधिक परेशान मवेशियों के लिए भी शासन को तत्काल चारा उपलब्ध कराना चाहिए श्री चौधरी ने समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं एवं नेताओं से भी अपील किया की सभी कार्यकर्ता और नेता बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में अपने अस्तर से भी लोगों की मदद करने हेतु आगे आएं और इस संकट की घड़ी में अपने लोगों के साथ खड़े हो क्योंकि बाढ़ की समस्या समाधान हेतु मेरे तरफ से पूर्व में सरकार के विभागीय मंत्री एवं मुख्यमंत्री जी को कई पत्र लिखा जा चुका जिसपर कोई सुनवाई नहीं हो रही ऐसे में जनता एवं पार्टी से जुड़े लोगो को ही आगे आना होगा।

          

No comments