Breaking News

Akhand Bharat

सरयू का तेवर नरम किन्तु तबाही बरकरार

 


रेवती - बलिया : सरयू नदी का तेवर नरम किन्तु बाढ़ से घिरे गांवों की तबाही बरकरार है। चांदपुर में नदी खतरे के निशान 58 मीटर से 93 से मी अब भी ऊपर है। प्रति घंटे एक सेमी की रफ्तार से नदी का जलस्तर घट रहा है। 

 भोजछपरा गांव के सामने टीएस बंधा के 64 कि मी से सटे रिंग बंधा नदी के दबाव के चलते बीते रविवार को रिसाव से 5 मीटर कट गया था उसे सोमवार की देर रात तक बालू व गिट्टी भरी बोरी से पाटकर नियंत्रित कर लिया गया है। किन्तु एक दूसरे रिटायर्ड बंधा के समीप दोनों बंधों को जोड़ने वाले रिंग बंधा पर रिसाव को देखते हुए निरोधात्मक कार्य चल रहा है। 

उधर सरयू नदी के बाढ़ से प्रभावित नवकागांव,मठनाग, देवपुर मठिया, धूपनाथ व बैजनाथ के डेरा के 1500 की आबादी को काफ़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बंधे से डेढ़ कि मी दूर चारों तरफ से नदी के पानी से घिरे, जहां आने जाने के रास्ते के अभाव में 

 धूपनाथ व बैजनाथ के डेरा जहां क्रमशः 15 व 45 कुल 60 घर तथा 200 की आबादी है भोजन व मवेशियों के चारा पानी को लेकर विषम विपरित परिस्थितियों का सामना करने को लोग विवश है। दूरी की वजह से बिना इनका जायजा लिए बंधे से ही नेता व जन प्रतिनिधि लौट जा रहें हैं।


पुनीत केशरी

No comments