Breaking News

Akhand Bharat

कबड्डी विशुद्ध रूप से ग्रामीण परिवेश का खेल है : प्रोफेसर फूलबदन सिंह




रतसर(बलिया) जेएनसीयू के संयोजकत्व में स्थानीय किसान स्नातकोत्तर महाविद्यालय रकसा के परिसर में बुद्धवार को दो दिवसीय अन्तर महाविद्यालय कबड्डी प्रतियोगिता का उद्घाटन कार्यक्रम के साथ शुभारम्भ किया गया।प्रतियोगिता में 29 महाविद्यालय की टीमों ने प्रतिभाग किया। जिसमें बालिका वर्ग की 14 व बालक वर्ग की 15 टीमें सम्मिलित हुई। प्रतियोगिता के उद्घाटन के अवसर पर संयोजक क्रीड़ा परिसर जेएनसीयू के प्रोफेसर फूलबदन सिंह ने अपने उद्बोधन में कहा कि क्रीड़ा सहयोग,समानता एवं बंधुत्व का प्रतीक है।कबड्डी विशुद्ध ग्रामीण परिवेश का खेल है जो ग्रामीण प्रतिभाओं को उभार कर राष्ट्रीय स्तर पर सहभागिता का अवसर प्रदान करता है। उद्घाटन मैच दूजा देवी महाविद्यालय सहतवार एवं बांसडीह की बालिका वर्ग की टीमों के बीच हुआ,जिसमें दूजा देवी महाविद्यालय की टीम 42-15 स्कोर के अंतर से विजयी रही। बालक वर्ग का उद्घाटन मैच दूजा देवी महाविद्यालय सहतवार एवं विश्वविद्यालय कैम्पस की टीमों के बीच हुआ, जिसमें दूजा देवी महाविद्यालय की टीम विजयी रही।बालिका वर्ग की टीमों का लीग मैच सम्पन्न होने के बाद क्वार्टर फाइनल में दूजा देवी महाविद्यालय एवं गांधी महाविद्यालय की बालिका टीमें प्रवेश की। उद्घाटन कार्यक्रम में मंचस्थ अतिथिगण एवं प्रतियोगिता में सम्मिलित समस्त टीमों के प्रबन्धक एवं खिलाड़ियों तथा खेल प्रेमी दर्शकवृंद का स्वागत महाविद्यालय के प्राचार्य डा०अभय नाथ सिंह ने किया तथा संचालन असिस्टेन्ट प्रोफेसर बीएड विभाग अनिल कुमार सिंह ने किया। कबड्डी प्रतियोगिता का उद्घाटन प्रोफेसर फूलबदन सिंह ने फीता काटकर किया। इस अवसर पर विभिन्न महाविद्यालयों के शिक्षकगण पूर्व प्राचार्य डा०अशोक कुमार सिंह और शिक्षणेत्तर कर्मचारी गण सहित छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे ।



रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments