Breaking News

Akhand Bharat

एक चिकित्सक के ऊपर है डेढ़ लाख आबादी की चिकित्सा की जिम्मेदारी

 


रेवती - बलिया : स्थानीय सीएचसी पर कार्यरत एक मात्र अधीक्षक / चिकित्साधिकारी डां रोहित रंजन पर डेढ़ लाख की आबादी की चिकित्सा की जिम्मेदारी है। बीते तीन माह पूर्व यहां तैनात दो चिकित्सों डा. राहुल गौतम व यशवंत सिंह का अन्यत्र स्थानांतरण होने से ओपीडी व प्रशासनिक जैसे सभी कार्य अधीक्षक डां रंजन को देखना पड़ रहा है। सन 2012 - 13 में  पीएचसी से 30 बैंड का नये भवन में सीएचसी के रूप में परिवर्तित होने के उपरांत लोगो को लगा कि अब उनका यही पर बेहत्तर ईलाज होगा। किन्तु एक्सरे मशीन सहित अन्य चिकित्सा उपकरणों की कमी तथा विशेषज्ञ चिकित्सकों की नियुक्ति नहीं होने से इसका पूरा लाभ क्षेत्रवासियों को नहीं मिल पा रहा है। वर्तमान में दो आयुष चिकित्सक डां अरविंद वर्मा व डां अनिता कार्यरत हैं जो तीन दिन, यहां अपनी सेवा प्रदान करते है। अधीक्षक के न रहने पर ओपीडी का कार्य डब्लूएचओ के चिकित्सक डा बद्रीराज यादव को देखना पड़ता है। चीफ समीउल्लाह,डा. एस एन तिवारी, संदीप शर्मा तीन , तीन फार्मासिस्ट , तीन वार्ड व्याय, स्वीपर आदि सभी की तैनाती है किन्तु अधीक्षक को हैन्ड/ सहयोग करने के लिए एक अन्य चिकित्सक की नियुक्ति नहीं होने से रेफर अस्पताल बन कर रह गया है । 

------- 

 इस संबंध में अधीक्षक डा. रोहित रंजन ने बताया कि यहां राजनीतिक दबाव व चिकित्सकों के साथ पूर्व में हुए दुर्व्यवहार के चलते कोई चिकित्सक आना नही चाहते। डा. की नियुक्ति के लिए सीएमओ बलिया को लिखा गया है।


पुनीत केशरी

No comments