Breaking News

Akhand Bharat

बलिया के इस कस्बे में मकान में शव दफन होने की सूचना पर पहुंची जांच टीम, घरवालों ने किया विरोध

 




रतसर (बलिया)। नगर पंचायत स्थित एक मकान में शव दबे होने की शिकायत का सनसनी खेज मामला आने से क्षेत्र में हड़कम्प मच गया। शुक्रवार को शव दबाए जाने की शिकायत पर शिकायतकर्ता के साथ पहुंची मानवाधिकार एवं पुलिस प्रशासन की टीम ने मकान को खंगालने के बाद कुछ न मिलने पर मकान मालिक के परिजनों ने जांच टीम और शिकायतकर्ता को घंटो रोके रखा। परिजन शिकायतकर्ता की पहचान सार्वजनिक करने की मांग कर रहे थे। जबकि जांच टीम एवं आयोग शिकायतकर्ता की पहचान सार्वजनिक करने को तैयार नही था। समाचार लिखे जाने तक परिजनों एवं जांच टीम के बीच खीचातानी चल रही थी। 


जानकारी के अनुसार शुक्रवार को स्थानीय नगर पंचायत निवासी स्व० धर्मात्मानन्द सिंह के पैतृक आवास पर मानवाधिकार की टीम भारी पुलिस के साथ पहुंची। जांच टीम ने बताया कि किसी के द्वारा यह शिकायत की गई है कि स्व० धर्मात्मानन्द सिंह के पैतृक मकान के अंदर बहुत पहले से हत्या कर शव को जमीन के अन्दर दफनाया गया है। मौके पर उपस्थित परिजनों ने जांच का विरोध करते हुए यह कहा कि शिकायतकर्ता की पहचान को उजागर किया जाय। पुलिस बल शिकायतकर्ता को अपने गाड़ी में बैठाए रखा। जब कि परिजन बार-बार शिकायतकर्ता को गाड़ी से बाहर निकालने और उसकी पहचान को उजागर करने की मांग करते रहे। पुलिस एवं आयोग की जांच टीम तथा परिजनों के बीच चले घंटो खींचतान के बाद आधिकारियों के मान मनौव्वल के बाद परिजनों ने शिकायतकर्ता एवं जांच टीम को छोड़ा। इस घटना को लेकर क्षेत्र में तरह- तरह की चर्चा हो रही थी। वहीं लोगों में घटना को लेकर दिनभर कौतूहल बना रहा। जांच टीम में क्षेत्राधिकारी अशोक चौधरी, प्रभारी निरीक्षक गड़वार आर.के.सिंह, मानवाधिकार आयोग की टीम, डाग स्क्वायड आजमगढ़, फोरेंसिक टीम तथा भारी संख्या में पुलिसबल मौजूद रहे।




   By Dhanesh Pandey


No comments