Breaking News

Akhand Bharat

टीबी के साथ अब कालाजार,कुष्ठरोग व फाइलेरिया के मरीज भी खोजे जाएंगे : सीएमओ जयन्त कुमार








रतसर (बलिया):जनपद की समस्त स्वास्थ्य इकाइयों पर सोमवार को निक्षय दिवस मनाया गया। गड़वार ब्लाक के पचखोरा ग्राम स्थित हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर पर " निक्षय दिवस " का शुभारम्भ मुख्य चिकित्साधिकारी डा० जयन्त कुमार ने फीता काटकर उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि टीबी रोगियों के साथ फाइलेरिया,कुष्ठ और कालाजार से ग्रसित रोगियों को चिह्नित कर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।क्षय उन्मूलन का लक्ष्य हासिल करने के लिए आवश्यक है कि टीबी के संभावित मरीजों की शीघ्र जांच कराकर उनका जल्द से जल्द इलाज शुरू कराया जाए। बताया कि आशा कार्यकर्ता संभावित टीबी, कुष्ठ,फाइलेरिया व कालाजार के संभावित मरीजों की सूची तैयार कर उन्हें हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर तक लाएंगी। सेंटर पर तैनात समुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी ( सीएचओ ) मरीजों की प्रारंभिक जांच एचआईवी,डायबिटीज और अन्य जांच करेंगे। इसके साथ ही बलगम का नमूना लेंगे। उसे निक्षय पोर्टल पर आईडी बनाते हुए नजदीकी टीबी जांच केंद्र पर भेजा जाएगा। सीएचओ और आशा के जरिए निक्षय दिवस पर मिलने वाली सुविधाओं का प्रचार- प्रसार भी किया जाएगा। बताते चले कि हर माह की 15 तारीख को निक्षय दिवस मनाए जाने का निर्णय लिया गया है। लेकिन इस बार 15 तारीख को रविवार अवकाश होने की वजह से सोमवार को " एकीकृत निक्षय दिवस " के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर अपर मुख्य चिकित्साधिकारी / डीएलओ सुधीर तिवारी, जिला मलेरिया अधिकारी सुनील कुमार,अधीक्षक डा० राकिफ अख्तर,जिला नोडल अधिकारी फाइलेरिया कृष्ण कुमार, संजय कन्नौजिया,बीपीएम आशुतोष सिंह,कुष्ठ पर्यवेक्षक गोपाल जी, बीसीपीएम अनिल कुमार, सीएचओ दीपिका,आशा संगिनी पूनम मौजूद रहे।

रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments