Breaking News

Akhand Bharat welcomes you

कान्हा पशुआश्रय स्थल में रखे गये मवेशियो के चारा व दवा के अभाव में हो रही मौत पर जिम्मेदार मौन



मनियर, बलिया । नगर पंचायत मनियर के गौरा बगहीं स्थित कान्हा पशु आश्रय स्थल की स्थिति बद् से बद्तर हो गई है। आए दिन पशुओं के मरने का सिलसिला जारी है। मरे हुए पशुओ को वही जमीन में जे० सी बी० ढक दिया जाता है ।और जिम्मेदार मौन साधे हुए हैं। 

जानकारी के मुताबिक पशु आश्रय स्थल में करीब 165 पशुओं को रखा गया है। जिसमें बेलहरी ब्लांक स्थित आश्रय स्थल से 100 से अधिक पशुओं को करीब एक माह पूर्व से यही रख कर खान पान की ज़िम्मेदारी दी गई है। लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण योजना का विभागीय उदासीनता का इस कदर पतीला लगाया जा रहा है। जो गौरा बगहीं स्थित कान्हा पशु आश्रय स्थल पर देखने को मिल रहा है। इस आश्रय स्थल पर खान पान व दवा इलाज  के अभाव में प्रतिदिन पशुओं की मौत का सिलसिला जारी है।सुत्रो के अनुसार  जिसमें सोमवार को तीन पशुओं की मौत हो गई है। और जिम्मेदार मूक दर्शक बने हुए है। यही नहीं मरे हुए पशुओं को नगर पंचायत की जेसीबी से आश्रय स्थल में ही गड्ढा खोदकर दफना दिया जाता है। इन बेजुबान जानवरों की मौत पर नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में तरह तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है। चर्चा है कि नगर पंचायत का जिम्मेदार अधिकारी व कर्मचारी केवल नगर का आय व्यय की देखभाल में व्यस्त हैं। इस संबंध में एसडीएम बांसडीह राजेश कुमार गुप्ता से पुछे जाने पर  बताया कि मामला संज्ञान में नहीं है। इस मामले को दिखवा रहा हूं।


प्रदीप कुमार तिवारी

No comments