Breaking News

Akhand Bharat welcomes you

नेपाल में होने वाले अंतरराष्ट्रीय वेदान्त विमर्श में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे डॉ विद्यासागर उपाध्याय

 





मनियर, बलिया ।सनातन धर्म के मौलिक विश्लेषण और वेदान्त दर्शन पर आध्यात्मिक संवाद हेतु आगामी 25 मई को प्रसिद्ध भैरव स्थान जनकपुर धाम नेपाल में श्री रामकृष्ण विवेकानन्द मिशन बर्दीबास,सरस्वती राजनारायण प्रतिष्ठान जनकपुर धाम और श्री रौनियार सेवा समिति जनकपुर धाम द्वारा आयोजित अंतरराष्ट्रीय वेदान्त विमर्श में भारत का प्रतिनिधित्व ख्याति लब्ध शिक्षा विद विशेषज्ञ भारतीय दर्शन डॉ विद्यासागर उपाध्याय  करेंगे।नेपाल के बौद्धिक समाज की उपस्थिति में कार्यक्रम कुल तीन सत्रों में संपन्न होगा।प्रत्येक सत्र दो घण्टे का होगा जिसमे डेढ़ घण्टे का व्याख्यान और आधा घण्टे का प्रश्नोत्तर काल होगा।प्रथम सत्र के मुख्य वक्ता श्री रामकृष्ण आश्रम नेपाल के प्रमुख स्वामी एकार्थानन्द होंगे।तत्पश्चात द्वितीय सत्र के मुख्य वक्ता भारतीय दार्शनिक डॉ विद्यासागर उपाध्याय होंगे और अंतिम सत्र के मुख्य वक्ता मानस मर्मज्ञ नेपाल  भुवनेश्वर चौधरी होंगे। डॉ विद्यासागर उपाध्याय की इस उपलब्धि भारतीय विद्वत समाज में हर्ष व्याप्त है।अखिल भारत विद्वत परिषद के महासचिव प्रोफेसर कामेश्वर उपाध्याय काशी,महामंडलेश्वर जूना अखाड़ा ब्रह्मनिष्ठ श्रोत्रिय  सुमनानंद गिरी  महाराज उज्जैन,महामंडलेश्वर योगिनी गुरु मां राधाशरण सरस्वती  श्रीधाम वृन्दावन,स्वामी चरणाश्रित  महाराज ऋषिकेश,स्वामी कौशिक चैतन्य महाराज संस्थापक चिन्मय मिशन लखनऊ,न्यायमूर्ति रंगनाथ पाण्डेय ,केंद्रीय मंत्री  कौशल किशोर,फिल्म अभिनेता  पुनीत इस्सर, उत्तर प्रदेश के मंत्री डॉ दयाशंकर मिश्र दयालु , सत्यनिवास वशिष्ठ अमेरिका, डॉ रामशंकर सहाय केपटाउन अफ्रीका, डॉ विक्रम सिंह मास्को रूस,स्वामी शिशिरेंदु झा  सिडनी आस्ट्रेलिया, डॉ सुरेश सोमानी लंदन,वरिष्ठ आई ए एस  प्रदीप दुबे ,वरिष्ठ आई ए एस कैप्टन एस के द्विवेदी ,वरिष्ठ आई ए एस श्री धर्मेंद्र देव मिश्र,वरिष्ठ आई ए एस  चंद्रिका प्रसाद तिवारी,वरिष्ठ आई ए एस राम मनोहर मिश्र,वरिष्ठ आई पी एस सूर्यकुमार शुक्ला , फिल्म निर्देशक सनोज मिश्र मुंबई, राजकिशोर यादव  आसनसोल पश्चिम बंगाल, करुणानिधि तिवारी, डॉ अरविन्द उपाध्याय, अजय कुमार उपाध्याय, राधेश्याम यादव  जितेंद्र उपाध्याय, संतोष दीक्षित, हरेंद्र नाथ मिश्र, बड़ेलाल यादव, डॉ जनार्दन राय, अवध बिहारी चौबे सहित आदि लोगों ने डॉ विद्यासागर उपाध्याय के इस उपलब्धि पर बधाई दिया है। इस आशय की जानकारी स्वयं डॉक्टर विद्यासागर उपाध्याय ने दी।


प्रदीप कुमार तिवारी

No comments