Breaking News

Akhand Bharat welcomes you

नगर पंचायत द्वारा नियमों की अनदेखी कर गलत तरीके से टेंडर की प्रक्रिया करने के मामले को लेकर पूर्व सभासद ने डीएम से लगाई गुहार

 





मनियर, बलिया । नगर पंचायत मनियर में कथित तौर पर नियमो की अनदेखी कर गलत तरीके से टेन्डर करने के प्रक्रिया के मामले को लेकर शनिवार को पूर्व सभासद अमरेन्द्र कुमार सिह ने जिलाधिकारी बलिया को पत्र देकर  कारवाई करने की मांग की है पत्र के माध्यम से उल्लेख किया है कि नगर पंचायत द्वारा 18 जुन 2024 को ई निविदा की सुचना दी गयी है ।जिसमें पांच कवर्ड आर० सी ०सी ०नाला निर्माण  अलग अलग स्थान से किया जाना दर्शाया गया है ।जिसका अनुमानित लागत 39 लाख से अधिक दर्शाया गया है जबकि ये सभी  कार्य अलग_ अलग नहीं बल्कि एक ही है साथ ही  टेन्डर में यह नही दर्शाया गया है कि टेन्डर कब से कब तक आयोजित किया जाता है  और कब खुलेगें । ज्ञापन के मुताबिक ये उनकी लुट की मानसिकता को स्पष्ट रूप दर्शाता है। पत्र के अनुसार नगर पंचायत मनियर द्रारा 21जुन 2024 को एक और निविदा सुचना दी गयी जिसमें निविदा 24 जुन 2024 से 30जुन 2024 तक आमंत्रित्र किया गया है ।जिसे नगर पंचायत द्वारा 24 जुन 2024 को ही 5  बजे खोला जाना दर्शाया गया है।जो यातो घोर लापरवाही है या अन्य ठेकेदारो को गुमराह करने हेतु जानबूझकर किया गया है उक्त निविदा का पहला कार्य पुर्व निर्मित अन्तेष्ठी स्थल का जिर्णोद्वार है । जिसकी अनुमानित लागत 33लाख अंठान्वे हजार है जो लागत नये अन्तेष्ठी स्थल की है जबकि ये लागत जिर्णोद्वार का बताकर निविदा निकाली गयी है । ज्ञापन के अनुसार ये कार्य वोर्ड द्वारा प्रस्तावित  भी नहीं है और यह  कार्य निविदा निकलने के दो माह पुर्व चुनाव के दरमियान आदर्श आचार सांहिता को ताक पर रखकर चल रहा है जिसका साक्ष्य संलग्न करते हुए बताया गया है कि निविदा क्रम संख्या 3और4 सरवार रोड़ से नगर पंचायत गेट व बस स्टैन्ड के स्वागत द्वार तक लाईट व पाईप कार्य है जो पहले ही हो चुका है ।पत्र मेंआरोप है कि धन की बर्बादी होगी व साथ ही विकास कार्य बाधित होगें  ।अधिशासी अधिकारी के होते हुए लिपीक के हस्ताक्षर से नगर पंचायत द्वारा एक अल्पकालिक कोटेशन सुचना 18 जुन 2024 को बन्दर पकड़ने हेतु  निकाली गयी है । जो नियम विरूध है जिसकी प्रति पत्र के साथ संलग्न  कि गयी है पत्र के माध्यम से उक्त  कार्यो को संज्ञान मे लेकर तुरन्त उन कार्यो को निरस्त कर पुन:नियम संगत तरीके से  कराने की मांग कि गयी है ताकि सरकार के भ्रष्टाचार विहीन शासन की अवधारणा मुर्त हो । शिकायत कर्ता के मुताबिक पत्र कि एक प्रति माननीय मुख्यमंत्री को भी भेज दी गयी है ।

इस संबन्ध में पुछे जाने पर ईओ मनियर मनोज पान्डेय ने बताया कि टेन्डर कि जो भी प्रक्रिया कि गयी है वो नियमो के अनुसार कि गयी है



प्रदीप कुमार तिवारी

No comments