Breaking News

ऑस्ट्रेलिया से लौटे पति-पत्नी को घर पर किया गया नजरबंद, बाहर निकलने पर भी रोक






पटना: कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे के बीच एक दंपति पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया से बिहार लौटा था। प्रशासन ने पति-पत्नी दोनों को उन्हीं के घर पर नजरबंद कर दिया है। अन्य लोगों की सुरक्षा की खातिर यह कदम उठाया गया है। उनकी घर पर ही जांच-उपचार की व्यवस्था की जा रही है। साथ ही उनके कहीं बाहर निकलने पर रोक लगा दी गई है। अधिकारियों ने बताया कि, अभी दोनों में कोरोना वायरस जैसे लक्षण तो नहीं है, लेकिन रिपोर्ट न आने तक उनके बाहर निकलने पर रोक जारी रहेगी।

मालूम हो कि, बिहार में अब तक पांच संदिग्ध मरीज गया जिले से मिले हैं, इन मरीजों की जांच रिपोर्ट निगेटिव पायी गई है। बताया जा रहा है कि, गया एयरपोर्ट पर आस्ट्रेलिया से बैंकॉक होते हुए जैन समुदाय का दंपति लौटा था। पति-पत्नी दोनों की तबियत तो ठीक थी, मगर​ फिर भी निगरानी में रखा गया है। एहितयातन उनको घर से निकलने के लिए भी मना किया गया है।


गया एयरपोर्ट पर जिला स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की यूनिट भी तैनात है। यही नहीं, डब्यूएचओ की यूनिट जिलेभर में भी निगरानी कर रही है। बता दें कि बिहार का गया एयरपोर्ट एकमात्र ऐसा एयरपोर्ट है, जहां इंटरनेशनल फ्लाइट्स की आवाजाही है। सालभर में लाखों की संख्या में विदेशी पर्यटक गया और बोधगया आते हैं। ऐसे में यहां निगरानी रखी जा रही है।

डब्ल्यूएचओ के अधिकारी डॉ. देवशेष मजमुदार के मुताबिक, पिछले 25 दिनों से गया एयरपोर्ट पर हाई अलर्ट है। यहां प्रतिदिन 400 देसी-विदेशी यात्रियों की जांच की जा रही है। इस दौरान पर्यटकों की संख्या भी कम हो गई है। इस बीच कोरोना को लेकर आने और जाने वालों को जागरूक भी किया जा रहा है। एयरपोर्ट पर कोरोना वायरस की जांच के लिए स्वास्थ्य कर्मियों को तीन लेजर थर्मामीटर उपलब्ध कराया गया है।
डेस्क

No comments