Breaking News

> > >

तीन मई के बाद भी लागू रहेगा लॉकडाउन



   
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग खत्म हो गई है। करीब 3 घंटे चली इस अहम बैठक में आगे की रणनीति पर राज्यों ने अपना पक्ष रखा। बैठक में पीएम मोदी ने लॉकडाउन को लेकर भी चर्चा की। सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी ने ऐसे संकेत दिए हैं कि, देश में कोरोना के हॉॉस्पॉट में तीन मई के बाद भी लॉकडाउन लागू रहेगा। वहीं कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी इसी तरह की सलाह दी है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के बीच जारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की बैठक अब खत्म हो गई है। करीब तीन घंटे चली इस चर्चा में लॉकडाउन और कोरोना संकट को लेकर बातचीत हुई। सूत्रों के मुताबिक, बैठक में तय हुआ कि हॉटस्पॉट इलाकों में ही लॉकडाउन जारी रहेगा। जिन राज्यों में हालात काबू में हैं, वहां जिलेवार कुछ रियायतें दी जाएंगी। हालांकि, अंतिम फैसला 3 मई तक लिया जाएगा।


बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि, अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर चिंता करने की जरूरत नहीं है, हमारी अर्थव्यवस्था अच्छी है। बैठक में नौ में से पांच मुख्यमंत्रियों ने कहा कि लॉकडाउन समाप्त होना चाहिए, जबकि बाकी कोरोना वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए इसका विस्तार करने के पक्ष में थे। सूत्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री ने सभी राज्यों को संक्रमण के स्तर के आधार पर जिलों को रेड, ग्रीन और ऑरेंज, बांटने की अपनी योजना तैयार करने को कहा है। सूत्रों के मुताबिक, ग्रीन और ऑरेंज क्षेत्रों में आर्थिक गतिविधियां फिर से खुलने की संभावना है।

बैठक में कहा गया कि, किसी भी व्यावसायिक गतिविधि को केवल सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क अनिवार्यता के साथ फिर से शुरू करने की अनुमति दी जाएगी। मेघालय के सीएम कोनार्ड संगमा ने कहा कि पीएम मोदी के साथ वीडिया कॉन्फ्रेंस में हमने बैठक में 3 मई के बाद भी लॉकडाउन बढ़ाने की अपील की है। इसमें ग्रीन जोन और जहां कोरोना का असर नहीं है वहां गितिविधियों में ढील देने की अपील की है।'
पीएम ने इस बैठक में राज्यों से बड़े पैमाने पर सुधारों की मांग की।उन्होंने कहा है कि यह सुधारों की योजना बनाने का सही समय है। राज्य सामाजिक और आर्थिक कल्याण के लिए सुधारों की योजना बनाए और इसकी रिपोर्ट केंद्र को भेजे। बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हजारों जिंदगियां बचाने में प्रयास महत्वपूर्ण हैं, पहले लॉकडाउन में सख्ती और दूसरी में कुछ ढील देने से अनुभव प्राप्त हुआ। राज्यों में अच्छा काम हुआ है, हमें लगातार एक्सपर्ट्स के सुझाव मिल रहे हैं। अब मनरेगा समेत कई उद्योग का काम शुरू हो गया है।




डेस्क

No comments