Breaking News

आगरा मॉडल' पर प्रियंका के बाद अखिलेश का हमला




लखनऊ। कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश में 'आगरा मॉडल' की जमकर तारीफ की गई थी, लेकिन अब यहीं सबसे ज्यादा पॉजिटिव केस सामने आए हैं। यही नहीं, यहां के क्‍वारंटाइन सेंटर में फैली अव्यवस्था और बदइंतजामी की तस्वीरें भी सामने आने लगी हैं। इस मामले में विपक्षी दलों ने यूपी की योगी सरकार को घेरना शुरू कर दिया। पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और अब समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश ने प्रदेश सरकार पर हमला बोला है।



मेयर ने कहा- इंडिया का वुहान बन सकता है आगरा

आगरा के मेयर ने पत्र में लिखा है, 'मैं बहुत दुखी मन से आप को पत्र लिख रहा हूं कि मेरा आगरा अत्यधिक संकट के दौर से गुजर रहा है। आगरा को बचाने के लिए कड़े निर्णय लेने की आवश्यकता है। स्थिति अत्यधिक गंभीर हो चुकी है। इसलिए मैं आपसे हाथ जोड़कर प्रार्थना कर रहा हूं कि मेरे आगरा को बचा लीजिए, बचा लीजिए।' मेयर ने यह पत्र 21 अप्रैल को लिखा था जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। पत्र में लिखा है, 'आगरा, देश का वुहान बन सकता है। स्थानीय प्रशासन नाकारा साबित हुआ है। हॉटस्पाट एरिया में बनाए गए क्वारंटीन सेंटर्स में कई-कई दिनों तक जांच नहीं हो पा रही है। ना ही मरीजों के लिए भोजन पानी का उचित प्रबंध हो पा रहा है। स्थिति विस्फोटक है।'


क्वारंटाइन सेंटर का वीडियो वायरल

आगरा में क्वारंटाइन सेंटर में फैली अव्यवस्था वाला वीडियो सामने आया है। यह वीडियो आगरा-दिल्ली हाईवे पर स्थित एक क्‍वारंटाइन सेंटर का है, जहां आइसोलेट किए लोगों के साथ अछूतों जैसा व्यवहार किया गया। बंद गेट के शटर से लोगों को खाना और पानी दिया गया। वीडियो वायरल होने के बाद आगरा के जिलाधिकारी प्रभु एन सिंह ने सीडीओ को जांच करने के आदेश दिए हैं।


अखिलेश यादव ने कहा- जागो सरकार जागो

अखिलेश यादव ने सोमवार को ट्वीट किया, ''मुख्यमंत्री द्वारा बहुप्रचारित कोरोना से लड़ने का 'आगरा मॉडल' मेयर के अनुसार फेल होकर आगरा को वुहान बना देगा। न जांच, न दवाई, न अन्य बीमारियों के लिए सरकारी या प्राइवेट अस्पताल, न जीवन रक्षक किट और उस पर क्वारंटाइन सेंटर्स की बदहाली प्राणांतक साबित हो रही है।'' अखिलेश ने कहा, जागो सरकार जागो! इससे पहले रविवार को प्रियंका गांधी ने आगरा के मेयर के पत्र को साक्षा करते हुए लिखा, ''आगरा शहर में हालात खराब हैं और रोज नए मरीज निकल रहे हैं। आगरा के मेयर का कहना है कि अगर सही प्रबंध नहीं हुआ तो मामला हाथ से निकल जाएगा।''



प्रियंका ने कहा- पारदर्शिता बहुत जरूरी है

प्रियंका ने कहा, कल भी मैंने इसी चीज को उठाया था। पारदर्शिता बहुत जरूरी है। टेस्टिंग पर ध्यान देना जरूरी है। कोरोना को रोकना है तो फोकस सही जानकारी और सही उपचार पर होना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा आगरा मेयर की बातों को सकारात्मक भाव से लेना और तुरंत पूरी तरह से आगरा की जनता को महामारी से बचाने का प्रयास करना महत्वपूर्ण है।



डेस्क

No comments