Breaking News

लाक डाउन में परदेशियों को खाने की हुई व्यवस्था


रेवती (बलिया)। लाकडाउन में फंसे कलकत्ता से आये कपड़े की फेरी लगाकर बेचने वाले आधा दर्जन से अधिक परदेशियों को भोजन के अभाव में गुरूवार की रात भूखे सोना  पड़ा। शुक्रवार को स्थानीय पुलिस की पहल पर नगर पंचायत रेवती के अध्यक्ष प्रतिनिधि कनक पांडेय द्वारा सभी को अलग-अलग आटा, चावल व अन्य राहत सामग्री उपलब्ध करायी गई।
इन परदेशियों का कहना हैं कि लाकडाउन के चलते काम धंधा ठप हो गया हैं। ट्रेन व परिवहन सेवा बाधित होने से कलकत्ता जाना संभव नहीं हो पा रहा है। जब तक पैसा था, काम किसी तरह चल जा रहा था। इतने दिन से काम बंद होने से पास का पैसा समाप्त हो गया है। जिससे फांकाकसी की स्थिति उत्पन्न हो गई है। अध्यक्ष प्रतिनिधि श्री पांडेय ने बताया कि नगर का हो या परदेश का किसी को भूखा नही रहने दिया जायेगा। जिनके पास कार्ड नहीं हैं ऐसे परिवारों को मेरे तरफ से बराबर राहत सामग्री दी जा रहीं हैं। नगर में झांसी से आकर गोलगप्पा बेचने वाले एक दर्जन परिवारों सहित डलिया , दौरा बनाने वालें दो दर्जन परिवारों की महिलाओं को थाना में जन सहयोग से स्थापित अन्नपूर्णा बैंक से राहत सामग्री समय समय से उपलब्ध करायी जा रही है ।


रिपोर्ट : पुनीत केशरी

No comments