Breaking News

> > >

महामारी में सरकार के साथ हैं सभी पार्टियां, मन व्यथित है जनप्रतिनिधियों का भी मिल रहा सहयोग क्या हो रहा पैसा : रामगोविन्द



बांसडीह, बलिया : कोरोना संक्रमण को लेकर जहां पूरा देश में लॉक डाउन कर दिया गया है।वहीं सहयोग में भी पक्ष - विपक्ष की सभी पार्टियां अतुलनीय सहयोग कर रही हैं। यहाँ तक कि समाज सेवी संस्थाएं भी सहयोग में उतर आईं हैं। इस महामारी में सरकार के साथ सभी राजनीतिक पार्टियां हैं। बलिया जिला प्रशासन भी हर तरफ से मुस्तैद है और कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए अलर्ट भी है। इसके लिए जिला प्रशासन को धन्यवाद है। गुरुवार को नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने लखनऊ  स्थित आवास से दूरभाष पर उक्त बातें बताई। उन्होंने कहा कि आलम यह है कि जनप्रतिनिधियों के निधि से भी जिला प्रशासन को कोरोना से निबटने के लिए कोरोड़ो रुपये दिये जा रहे हैं। लेकिन हो क्या रहा है। यह समझ मे नही आ रहा ।हमने एक बार बीस लाख रुपये,फिर पत्रकार बन्धुओ के लिये एक लाख रुपये, और एक लाख सफाई कर्मियों के लियर एक करोड़ रुपये मेडिकल के लिये।लेकिन कहि भी न मास्क,सेनिटाइजर, और न कुछ सामग्री मिल रही हैं।यह एक यक्ष प्रश्न बनता जा रहा है।

" मन बहुत व्यथित है, पत्रकारों और बाँसडीह विधानसभा के लिए निधि से ही खर्च हेतु भेज था पत्र  - 

बाँसडीह विधानसभा से मैं विधायक हूँ मैंने 20 लाख रुपये निधि खर्च करने को पत्र भेजा ताकि विधानसभा में मास्क , सेनेटाइजर  वैगरह आमजन में वितरण हो सके। ऐसे महामारी से लोगों का बचाव हो सके। इतना ही नही सफाई कर्मचारियों के लिए भी अलग से लाखों का खर्च करने को दिया ,  दिन रात बिना किसी लालच के पत्रकार जान जोखिम में डालकर कवरेज कर रहे रहे हैं। बाँसडीह विधानसभा के पत्रकारों और जिला पर प्रिंट / इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के लिए एक लाख निधि से खर्च करने को पत्र भेजा लेकिन बड़े ही कष्ट के साथ यह बताना पड़ रहा है कि आखिर हो क्या रहा है। ऐसे विकट स्थिति में अगर मजाक समझा जा रहा है , तो मैं इसको लेकर  काफी व्यथित हूँ।हमारे बांसडीह क्षेत्र व बलिया के पत्रकार बन्धु सभी लोग जान जोखिम कर अखबार और चैनलों पर खबर भेज रहे हैं।परंतु इनको न तो मास्क,सेनिटाइजर आदि सामग्री उपलब्ध नही है।इसे क्या समझ जाय।पीड़ा हो रही हैं।मैं इस संबंध में कई बार जिले के अधिकारियों से वार्ता किया हु।परन्तु किसी को कुछ नही मिलना क्या दर्शाता हैं यह समझ से परे है।आखिर पैसा कहा जा रहा है।नेता प्रतिपक्ष ने सभी पत्रकारों को तुरंत संसाधन उपलब्ध कराने की बात जिलाधिकारी और मुख्य बिकास अधिकारी से कही है।

No comments