Breaking News

> > >

कोरोना वायरस से इलाका दहशत में, कही मेहनत पर पानी न फिर जाय



बाँसडीह, बलिया : कोरोना वायरस को लेकर जहाँ लॉक डाउन पार्ट टू चल रहा है। वहीं जिला प्रशासन भी कोई चूक नही कर रहा है। लेकिन ऐसे में बाँसडीह इलाका के लोगों में कोरोना वायरस को लेकर दहशत व्याप्त है। बता दें कि बिहार के सीवान जिला में 29 लोग कोरोना संक्रमण के जद में आये हैं और 29 में 21 लोग एक ही परिवार के हैं। बाँसडीह तहसील क्षेत्र के दक्षिण में घाघरा नदी उस पार सीवान (बिहार) स्थित है। इधर से इधर लोग आते जाते रहते हैं। हालाँकि जिला  प्रशासन द्वारा बॉर्डर सील कर दिया गया है।
" तहसील प्रशासन के मेहनत पर पानी न फिर जाय  "
दिन रात तहसील प्रशासन ने कोरोना वायरस से बचने के लिये काफी मेहनत किया है। लेकिन  सुबह 4 बजे से वाहनों का तांता थमते नही दिख रहा है। अंधेरा रहते ही चार पहिया सब्जी लादने वाले  वाहनों तथा दो पहिया वाहनों की सड़क पर लाइन लग जा रही है। ऐसे में लॉक डाउन का अनुपालन मजाक बन कर रह गया है। जानकारी के अनुसार इलाका में हरी सब्जियों का बड़ा बाजार एक मात्र केवरा गांव में लगता है। जहाँ से थोक व्यापारी सब्जी खरीद कर ले जाते हैं। जो बाहरी व्यापारी होते हैं। इतना ही नही क्षेत्र के दर्जनों गांव के बीच का यह मुख्य सब्जी बाजार एवं जिले का तीसरा  नम्बर सब्जी बाजार है। सुबह चार बजे से आठ बजे तक जो भींड़ लग रही है। लॉक डाउन की धज्जियां उड़ते दिख रही है। ऐसे में तहसील प्रशासन अगर कड़ा रुख नही अख्तियार करता है तो मेहनत पर पानी फिर सकता है।


रिपोर्ट : रविशंकर पांडेय


No comments