Breaking News


हाटस्पाट बने बलिया के इस गांव में प्रशासन अलर्ट



रतसर (बलिया)। गड़वार विकास खण्ड के अरईपुर गांव में सोमवार को मिले कोरोना संक्रमित मरीज के संपर्क में आए 13 लोगों की स्क्रीनिंग मंगलवार को गई एवं सैम्पलिंग जांच के लिए जनपद से डा०ए.के.मिश्रा के निर्देश पर सर्विलांस टीम के साथ स्थानीय पीएचसी के डा० देवेन्द्र यादव एवं स्थानीय स्टाफ की मदद से आशासंगिनी आशा कार्यकर्ता घर - घर जाकर पूरे गांव में सर्वेक्षण किये और संदिग्ध को सेम्पलिंग के लिए तैयार रहने को कहा।

 स्वास्थ्य टीम ने बताया कि जिनका सैम्पल लेना है वह व्यक्ति अपने को पूरी तरह क्वारंटीन कर ले। वह व्यक्ति तब तक आइसोलेट रहेगा जब तक उसकी रिपोर्ट न आ जाए। बताते चले कि सोमवार को मिले कोरोना मरीज का सैम्पल  2 जून को लिया गया था और उसकी रिपोर्ट 8 जून को आया था। 

इसके पहले वह मरीज बगल के गांव जनऊपुर में सैलून की दूकान पर दाढी एवं बाल बनवाया था साथ ही अपने मित्रों के साथ पार्टी भी मनाई थी। मंगलवार की सुबह खण्ड विकास अधिकारी विनोद मणि त्रिपाठी, चौकी प्रभारी रामअवध, ग्राम प्रधान हरिहर प्रसाद गोंड़ एवं प्रभारी चिकित्साधिकारी डा० रफीक अख्तर के निर्देशन में गांव को हाटस्पाट करते हुए पूरी तरह बैरिकेटिंग कर दिया गया तथा गांव में जरूरी सामानों के लिए ब्लाक स्तर से सेक्टर मजिस्ट्रेट को नियुक्त कर दिया गया है। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग की टीम में धनेश पाण्डेय, हरि किसुन सिंह, शिवजी यादव, आशासंगिनी रीता सिंह एवं आशा कार्यकर्ता मौजूद रही।



रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments