Breaking News


सीएम के निर्देश के दिखने लगी हनक, सैम्पलिंग तेज़ करने को लेकर शुरू हुआ मंथन



रतसर (बलिया) स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर सोमवार को संबंधित स्वास्थ्यकर्मियों की बैठक प्रभारी चिकित्साधिकारी डा० राकिफ अख्तर की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। 

बैठक में पीसीवी, आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड, परिवार नियोजन, कालाजार सहित वैश्विक महामारी कोविड - 19 की सैम्पलिंग पर विशेष ध्यान देने की जरूरत पर बल देते हुए डा. राकिफ अख्तर ने बताया कि मुख्यमन्त्री के निर्देशानुसार  बलिया में प्रतिदिन एक हजार से पन्द्रह सौ प्रतिदिन संक्रमित मरीज के हाई कन्टेन्ट रिस्क में आए व्यक्ति, प्रवासी सर्दी, खांसी, जुकाम एवं सांस की शिकायत वाले व्यक्तियों की सैम्पलिंग लेना अति आवश्यक है।किस केंद्र पर कितना सैंपलिंग कराना है संबंधित स्वास्थ्यकर्मी इसको लिस्ट कर लें और उसी हिसाब से काम करें। 

साथ ही आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड को ज्यादा से ज्यादा प्रचारित कर आशासंगिनी, आशा कार्यकर्ती एवं एएनएम के माध्यम से प्रचारित कर इसको अधिक से अधिक संख्या में बनवाना सुनिश्चित करें ताकि इस योजना से कोई लाभार्थी वंचित ना रह सके। उन्होने मौसमी बीमारीयाें से बचाव हेतु जन जागरूकता पर बल दिया और कहा कि इसके लिए सभी स्वास्थ्य कर्मी अपने-अपने क्षेत्रों में हमेशा गतिशील रहे। तथा बच्चों पर विशेष ध्यान दिया जाए। 

इसमें किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी। समय से अपने स्वास्थ्य केन्द्रों पर उपस्थिति दर्ज कराकर जिसकी जो ड्यूटी है वहां समय से ड्यूटी करे। इस अवसर पर आयुष्मान सीएचसी नोडल अशफाक, डब्लूएचओ मानिटर सद्दाम, पियुष बाबू, अनिल कुमार,सत्येन्द्र पाण्डेय, अरूण शर्मा, एस.एन.त्रिपाठी, जे.पी. सिंह, हरिकृष्ण सिंह उपस्थित आदि रहे। संचालन पर्यवेक्षक धनेश पाण्डेय ने किया।



रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments