Breaking News

जांच टीम की मौजूदगी में खुला ईओ का सील दफ्तर, फाईलें और कम्प्यूटर डीसीआर ले गई साथ





मनियर,बलिया। ईओ मणि मंजरी राय की मौत के 18 दिन व कार्यालय शील के 14 दिन बाद गुरुवार को नगर पंचायत मनियर कार्यालय में 3 सदस्यीय जांच टीम पहुंच कर ईओ के सील कार्यालय को खोलकर एक एक फाइलों को तहसील बांसडीह के बाबूओं के सहयोग से खंगाला गया व मामले से सम्बन्धित फाईलो कम्प्यूटर डीसीआर लेकर टीम अपने पास रख ली ।

मौत का पर्दाफाश करने के लिए एसडीएम बांसडीह दुष्यन्त कुमार, सीओ सीटी अरूण कुमार  , तहसीलदार बांसडीह गुलाब चन्द्रा व कोतवाल बलिया विपिन सिंह ने तहसील बांसडीह के बड़े बाबू पुष्पेन्द्र कुमार व टाइप बाबू परवेज अहमद के सहयोग से  देर शाम तक  फाइलों की जांच की।
सूत्रों कि मानें तो अध्यक्ष व बाबूओं से अलग ईओ कार्यालय होने के कारण मिले फाईलो  मे कुछ अहम सुराग मिलने के संकेत है। जिससे विभागीय लोग बताने से कतराते रहे। कक्ष में मौजूद फाइलों की डाटा सहित अवलोकन के साथ ही ईओ कक्ष में कौन कौन फाइल मौजूद है। 

किस किस मद की फाइलें है। और कौन कौन फाइलें कार्यालय से गायब है। अलग अलग इसकी सूची बनाई गई। इस दौरान ईओ कक्ष की विडियोग्राफी भी कराई गयी  ईओ मनियर मामले में करीब 6 घंटे चली फ़ाइलों की जांच में एसडीएम बांसडीह दुष्यंत कुमार मौर्य पुछे जाने पर  बताया कि लगभग आधे से अधिक फाईलों की जांच की गई है।  त्रुटियों के बारे में बताया कि विवेचना में स्पष्ट सामने आएगा। ईओ कक्ष पुनः सील कर दिया गया।


गौरतलब है कि विगत 6 जुलाई की देर रात बलिया कोतवाली स्थित आवास विकास कालोनी में अपने भाड़े के आवास में ईओ मणि मंजरी राय ने सुसाइड नोट लिखकर पंखे के हुक से झुलती हुई पाई गई थी। 


मौत के मामले में मृतका के भाई विजयानन्द राय की तहरीर पर पुलिस ने बलिया कोतवाली में नगर पंचायत अध्यक्ष भीम गुप्ता , टैक्स लिपीक विनोद सिह , कमप्यूटर अपरेटर अखिलेश कुमार  , सिकन्दर पुर के ईओ संजय कुमार , व ड्राईबर चन्दन कुमार  , ठेकेदार  सहित  अज्ञात के खिलाफ आत्महत्या करने के लिए विवश करने की तहरीर दी थी। जिसमें पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी ड्राइबर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं अन्य की तलाश में जगह जगह छापेमारी कर गिरफ्तार करने में जुटी है। इसी बीच बिगत 9 जुलाई को कोतवाली बलिया पुलिस ने नगर पंचायत कार्यालय स्थित ईओ के कार्यालय को सील कर दिया था। 




*चेयरमैन के परिजनों से मिला व्यापारियों का प्रतिनिधि मंडल*


मनियर,बलिया।वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष पूर्वांचल प्रभारी अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल उत्तर प्रदेश अरविंद गांधी, पूर्व नगर पालिका चेयरमैन बलिया लक्ष्मण गुप्ता, बांसडीह व्यापार मंडल अध्यक्ष विजय कुमार गुल्लर, नगर पंचायत मनियर के पूर्व  चेयरमैन प्रदीप गुप्ता  मनियर स्थित  चेयरमैन भीम गुप्ता के आवास पर बृहस्पतिवार को पहुंचे। नेताओं ने ई ओ मणि मंजरी राय के सुसाइड मामले में आरोपी बनाये गये चेयरमैन भीम गुप्ता के परिवार जनों से हालचाल पूछा एवं  जानकारी ली। इस मौके पर चेयरमैन भीम गुप्ता की पत्नी अनीता गुप्ता ने  कहा कि मेरा पति निर्दोश है  राजनीतिक साजिश का शिकार हुआ है। ई ओ मणि मंजरी राय से उनके मधुर संबंध थे। मणि मंजरी  राय नगर पंचायत के किसी भी मामले को लेकर तनाव में नहीं थी।आरोप लगाया कि  राजनीतिक साजिश कर्ताओं के बहकावे में आकर इस मामले में उनके परिवारी जनों ने मेरे पति को आरोपित कर दिया। वह इस मामले में बिल्कुल निर्दोष है। इसकी निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। अगर मेरे पति निष्पक्ष जांच में दोषी पाए जाते हैं तो उनके विरुद्ध कार्यवाही होनी चाहिए अन्यथा किसी निर्दोष को फंसाना न्याय नहीं होगा। इस मौके पर उपरोक्त नेताओं ने कहा कि पूरा व्यापार मंडल आपके साथ है। नेताओं ने मांग किया कि शासन प्रशासन इस मामले में निष्पक्ष जांच करें। अगर बिना जांच किए किसी भी निर्दोष को फंसाया जाता है तो व्यापार मंडल चुप नहीं बैठेगा। नेताओं ने कहा कि इस संदर्भ में हम लोगों ने मुख्यमंत्री सहित उच्च अधिकारियों को अपना मांग पत्र सौंपा है। हम  उम्मीद करते हैं कि मुख्यमंत्री सहित उच्च अधिकारी हमारी मांगों पर उचित विचार कर सीबीआई जांच बैठाएं ताकि इसकी निष्पक्ष जांच हो। इस मौके पर प्रमुख रूप से संतोष गुप्ता, अनिल गुप्ता, सभासद प्रतिनिधि कृष्णा प्रसाद, भोला सोनी सहित इत्यादि लोग मौजूद थे।



रिपोर्ट  राम मिलन तिवारी

No comments