Breaking News


एक ही साथ तीन कोरोना पाजिटिव मिलने से सकते में हैं लोग



मनियर,बलिया। थाना क्षेत्र के मानिकापुर गांव में मंगलवार को  तीन कोरोना पॉजिटिव एक साथ मिलने के बाद गाँव में दहशत व्याप्त है. संक्रमित मरीज मिलते ही गाँव  को हाँट स्पाट घोषित होने से ग्रामीणों सहित परिजन दहशत मे  जी रहे है ।मंगलवार की रात पहुँची स्वास्थ विभाग की  टीम ने  मां और उसके दो पुत्रों को लेकर इलाज   हेतू रवाना हो गयी  । हांलाकि केश  मिलने के  करीब 24  घंटे बीत जाने के बाद भी उस गांव को न तो बैरिकेडिंग किया गया है नहीं किसी प्रकार की आवाजाही पर रोक है। 

बताते चलें कि विगत 25 जून को दिल्ली से एक परिवार के 5 सदस्य मानिकापुर गांव में आए थे।  परिवार के एक सदस्य की मौत दिल्ली में हो गई थी जिसका दाह संस्कार करने के बाद वे लोग ब्रह्मभोज करने के लिए गांव पर पहुंचे। गांव वालों के जाग रूकता  व विरोध के चलते उनका ब्रह्मभोज का कार्यक्रम स्थगित कराया  गया। 

परिजनों ने बताया कि ग्रामीणो का आरो थाकि पहले जाँच उसके बाद ब्रम्हभोज की क्रिया । ग्रामीणों ने संक्रमित मिले  मरीज  के  परिवार के एक सदस्य की कोरोना के वजह से दिल्ली मे मौत की आशंका जताते हुए प्रशासन से पांचों सदस्यों की जांच की मांग की थी। 

बीते 25 जून को सेम्पल लिया व 26 जून को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पांच लोगों का सेम्पल  एकत्रित कर जांच हेतु भेज दिया जिसमें 30 जून को एक महिला सहित उसके दो बच्चों का रिपोर्ट करोना पाजिटिव आया। उसके बाद पुलिस ने मानिकापुर गांव से सटे रिगवन ढाले  पर लगने वाले बाजार  को बंद करा दिया लेकिन अभी तक गांव को सील नहीं किया गया है। लोग बेरोकटोक आ जा रहे हैं।

कोरोना पाजिटिव आयी महिला के परिजनों ने बताया कि मेरे पिता तीस वर्ष से अकेले दिल्ली में  रह रहे थे.जब तबियत खराब हुई तो फोन करके बुलाये दिल्ली पहुंचने के बाद उनका देहान्त हो गया  चर्चा है कि दिल्ली सेे मनियर पहुचे  परिजनो के सम्पर्क मे कुछ नात , रिस्तेदार संत्वना दैने भी आये  जिनकी जांच के लिए सेम्पलिगं  अभी नही   ली गयी है  है अगर उनकी जांच  हुई तो तो संख्या और बढ़ सकती है।



रिपोर्ट राम मिलन तिवारी

No comments