Breaking News

और देखते ही देखते पोखरे में समाहित हो गया देवी मंदिर, जैसे तैसे बची पुजारी और पुजारन की जान



सहतवार(बलिया)। मंगलवार को दिन में 10.30 बजे के करीब आयी तेज  आँधी के साथ पानी के कारण खानपुर(डुमरिया )मे सहतवार- हल्दी मार्ग पर पोखरे पर बना दुर्गा मन्दिर भरभरा पोखरे मे समा गया। जिससे मन्दिर के पुजारी और साध्वी दोनो गहरे पोखरे के पानी मे चले गये। दोनो को डूबते देख बगल मे दसकर्म का चल रहे कार्यक्रम के लोगो ने किसी तरह से बाहर निकाल कर जान बचायी। दोनो का ईलाज सहतवार हास्पिटल मे चल रहा है।
    
 बताया जा रहा है कि खानपुर निवासी  रणजीतदास70 वर्ष खानपुर के ही निवासी साध्वी यशोदा देवी 65वर्ष के दुर्गा मन्दिर मे ही रहकर हमेशा पूजा पाठ किया करते थे। मंगलवार को भी सुबह पूजा पाठ करके मन्दिर मे बैठकर भजन कीर्तन कर रहे थे कि अचानक तेज आँधी के साथ बरसात शुरु हो गयी । 10-30 बजे करीब पुरा मन्दिर टूट कर मन्दिर के पीछे बने पोखरे मे समा गया । जिसमे मन्दिर के साथ साथ साधु और साध्वी भी दोनो पोखरे के गहरे पानी मे जाकर डुबने लगे। दोनो को डूबते देख बगल मे चल रहे दस कर्म के कार्य मे उपस्थित लोगो ने किसी तरह से दोनो को पोखरे से बाहर निकाला।

रिपोर्ट-जेपी सिंह

No comments