Breaking News


पुलिस हिरासत से प्रधान प्रतिनिधि को छोड़ने के लिए महिला प्रधान के नेतृत्व में आधी आबादी का थाना में प्रदर्शन



रेवती (बलिया): स्थानीय थाना क्षेत्र के गायघाट से सटे बिसुनपुरा मौजा में एक पुराने ईट भट्टा के गढ़े में शुक्रवार की देर सायं हत्या कर फेके गये किशोर की शव के मामले में दर्ज पांच नामजद में हिरासत में लिए गये प्रधान प्रतिनिधि विजय प्रताप सिंह सहित चार लोगों के समर्थन में महिला प्रधान मीनू सिंह के नेतृत्व में गांव की दर्जनों महिलाओं ने शनिवार को रेवती थाना पहुंच कर धरना दिया तथा मेरा पति निर्दोष है,  निर्दोष है के साथ प्रदर्शन करते हुए उन्हें छोड़ने की मांग की ।


आरोप लगाया कि निर्दोष होते हुए भी पुलिस द्वारा तीन दिन से थाना में हिरासत में रखा गया है। घटना की शाम रेवती में एक बाईक की छिनैती हुई थी। घटना को  एक बाईक पर सवार चार युवकों द्वारा अंजाम दिया गया । एक आरोपी को जनता ने बिना नंबर की एक टी वी एस बाईक के साथ पकड़ कर पुलिस को सौंप दिया गया जिसे घटना के दूसरे दिन शुक्रवार को उक्त युवक छोड़ दिया गया ।

 उस घटना के तार (सम्बन्ध) मृतक किशोर से जुड़ा हुआ है । बिना तथ्यों की जांच किये राजनीतिक साजिश के तहत  केवल नाम देने से प्रधान प्रतिनिधि को आरोपित बना दिया गया है जो पूरी तरह बेकसूर है। इस दौरान महिला प्रधान व परिजनों ने बताया कि उनको आरोपित बनाये जाने से घर में लोग खाना पीना छोड़ दिये है कहकर उनकी आंखे भी बार बार डबडबा जा रही थी।


लगभग घंटे भर चले प्रदर्शन के बाद सीओ बैरिया अशोक कुमार सिंह ने महिलाओं को आश्वस्त किया कि अभी किसी आरोपी को जेल नही भेजा गया है । तथ्यों की पूरी जांच की जा रही है । बाईक छिनैती में शामिल एक युवक से बिना नंबर की बरामद बाईक की नंबर का पता लगाने के लिए आर टी ओ विभाग से संपर्क किया जा रहा है । 

सारी कड़ी की जांच की जा रहीं है । संलिप्त नही पाये जाने पर किसी निर्दोष को नही फंसाया जायेगा ।  
इस दौरान थाना में प्रदर्शन की जानकारी मिलते ही बैरिया , सहतवार सहित कई थानों की पुलिस सहित भारी संख्या मे महिला कांस्टेबल भी पहुंच गई। इस दौरान एस एच ओ प्रवीण कुमार सिंह , एस आई सदानंद यादव , गजेद्र राय , मायाशंकर दूबे , सूर्यकांत पांडेय , परमानंद त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।





रिपोर्ट पुनीत केशरी

No comments