Breaking News

कोरोना ने यूपी के दूसरे मंत्री की जान ली:पूर्व क्रिकेटर और यूपी सरकार के मंत्री चेतन चौहान का निधन



  • लखनऊ: पूर्व क्रिकेटर और उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान (73) का रविवार को निधन हो गया है। कोरोना संक्रमित होने के बाद उनका गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में इलाज चल रहा था। पिछले महीने वे संक्रमित हुए थे। उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल में चौहान के पास सैनिक कल्याण, होमगार्ड, पीआरडी और नागरिक सुरक्षा मंत्रालय थे। वे दो बार लोकसभा सांसद भी रह चुके हैं।
कोरोना के चलते अब तक यूपी के दो मंत्रियों की जान जा चुकी है। 2 अगस्त को मंत्री कमला रानी वरुण का भी कोरोना के चलते निधन हो गया था। कोरोना पॉजिटिव आने के बाद चेतन चौहान को किडनी और ब्लड प्रेशर से जुड़ी दिक्कतें शुरू हो गई थीं। उसके बाद उन्हें मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया था। इसी दौरान उनकी कोरोना रिपोर्ट दो बार निगेटिव आने के बाद तीसरी बार पॉजिटिव आई थी।





प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्वीटः 'चेतन चौहान जी ने खुद को एक शानदार क्रिकेटर और बाद में एक मेहनती राजनीतिक नेता के रूप में प्रतिष्ठित किया। उन्होंने उत्तर प्रदेश में सार्वजनिक सेवा और बीजेपी को मजबूत करने में प्रभावी योगदान दिया। उनके निधन से दुखी हूं। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति मेरी संवेदना है।'
यूपी के मुख्यमंत्री योगी का ट्वीटः
सचिन तेंदुलकर का ट्वीटः
यूपी सरकार के कई मंत्री कोरोना पॉजिटिव
उत्तर प्रदेश में अभी तक खेल मंत्री उपेंद्र तिवारी, जेल मंत्री जय प्रताप सिंह, राजेंद्र प्रताप सिंह, धर्म सिंह सैनी, कैबिनेट मंत्री मोती सिंह और महेंद्र सिंह कोरोना से ठीक हो चुके हैं। इसके अलावा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी पिछले हफ्ते कोरोना पॉजिटिव मिले थे।
मेलबर्न से आ रहे बेटा और पत्नी, उसके बाद अंतिम संस्कार होगा
भाई पुष्पेंद्र चौहान ने कहा, ‘‘मेरे बड़े भाई चेतन चौहान ने कोरोना से जंग लड़ते हुए जान गंवाई है। मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने भाई के स्वस्थ होने की दुआएं की थी। उनका बेटा विनायक कभी भी आता होगा। उसके बाद अंतिम संस्कार किया जाएगा।’’ विनायक अपनी मां के साथ ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न से गुरुग्राम आ रहे हैं।
चेतन चौहान ने 40 टेस्ट में 2084 रन बनाए
चेतन चौहान ने टीम इंडिया के लिए 1969 से 1978 के बीच 40 टेस्ट खेले थे। इनमें उन्होंने 31.54 की एवरेज से 2084 रन बनाए। उनका बेस्ट स्कोर 97 रन रहा। चेतन ने 7 वनडे में 153 रन बनाए। चौहान और सुनील गावस्कर की ओपनिंग जोड़ी 1970 के दशक में काफी सफल रही थी। दोनों ने मिलकर 10 शतकीय साझेदारियां कीं और 3 हजार से ज्यादा रन बनाए। चेतन घरेलू क्रिकेट में दिल्ली और महाराष्ट्र की टीम से खेले थे।
चौहान और सुनील गावस्कर की ओपनिंग जोड़ी 1970 के दशक में काफी सफल रही थी।
भारत के पूर्व फुटबॉलर भी कोरोना से जान गंवा चुके
इससे पहले पूर्व संतोष ट्रॉफी फुटबॉलर ई हम्साकोया (61) की कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है। उन्होंने केरल के मल्लपुरम के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली थी। भारत में वायरस से यह किसी खिलाड़ी की पहली मौत का मामला था। हम्साकोया समेत दुनियाभर में खेल जगत के अब तक 11 दिग्गज जान गंवा चुके हैं।
पाकिस्तान में तीन खिलाड़ियों की मौत
कोरोना के कारण पाकिस्तान में अब तक तीन पूर्व दिग्गज खिलाड़ी जान गंवा चुके हैं। हाल ही में पूर्व फर्स्ट क्लास क्रिकेटर रईज शेख (51), पूर्व फर्स्ट-क्लास क्रिकेटर जफर सरफराज (50) और स्क्वैश लेजेंड आजम खान (95) की मौत हुई थी।
कोरोना से खेल जगत के यह 7 दिग्गज भी जान गंवा चुके
कोरोना के कारण जापान के सूमो पहलवान शोबुशी (28), इंग्लैंड के पूर्व फुटबॉलर नॉर्मन हंटर (76), धावक दोनातो साबिया (56), स्विट्जरलैंड के आइस हॉकी लेजेंड रोजर शैपो (79), फ्रांस के फुटबॉल क्लब रीम्स के डॉक्टर बर्नार्ड गोंजालेज (60), इंग्लैंड के लंकाशायर क्रिकेट क्लब के अध्यक्ष डेविड हॉजकिस (71) और फ्रांस के ओलिंपिक डी मार्शल फुटबॉल क्लब के पूर्व अध्यक्ष पेप दिऑफ (68) दुनिया को अलविदा कह चुके हैं।
दुनिया के कई क्रिकेटर कोरोना संक्रमित
दुनिया के कई दिग्गज खिलाड़ी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी और बांग्लादेश के पूर्व कप्तान मशरफे मुर्तजा भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। मुर्तजा बांग्लादेश में सांसद भी हैं। उधर, इंग्लैंड दौरे पर जाने से पहले पाकिस्तान के 10 क्रिकेटर्स की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इनके अलावा टेनिस में वर्ल्ड नंबर-1 नोवाक जोकोविच और उनकी पत्नी भी संक्रमित हो चुकी हैं।



डेस्क

No comments