Breaking News

जाने कहाँ,जमीन जोतने से मना किया तो मारी गोली, हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए ग्रामीणों को करना पड़ा चक्का जाम




बलिया। बैरिया थाना क्षेत्र के टोला नेकाराय गांव के निकट शनिवार की सुबह ग्राम समाज की जमीन जोतने को लेकर हुए विवाद में गोली चलने से एक 16 वर्षीय किशोर घायल हो गया। जिसे इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनबरसा पहुंचाया गया, जहां उसकी स्थिति गंभीर देखते हुए चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार कर सदर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। घायल किशोर पूर्व सांसद भरत सिंह का रिश्ते में पौत्र बताया गया।
सूचना मिलते ही मौके पर बैरिया एसएचओ संजय त्रिपाठी हमराहियों के साथ पहुंच गए और मामले की छानबीन में जुट गए। उधर घटना की जानकारी होते ही अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार, सीओ सदर व प्रभारी सीओ बैरिया चंद्रकेश सिंह भी मौके पर पहुंच गए तथा पीड़ित परिवार व ग्रामीणों से घटना के बारे में जानकारी ली। इस मामले में पुलिस ने घायल किशोर के पिता सुरेंद्र विक्रम सिंह के तहरीर पर पांच लोगों के विरूद्घ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर चार लोगों को गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है। जबकि एक आरोपी अब भी पुलिस की पकड़ से दूर है।


उल्लेखनीय है की नौका टोला गांव निवासी सांसद भरत सिंह के भतीजा बबलू सिंह परिवार के कुछ सदस्यों के साथ सुबह-सुबह टहलने जा रहे थे। रास्ते में उन्होंने देखा कि नेकाराय के टोला निवासी कुछ लोग पुलिया के पास के ग्राम समाज की जमीन को जुतवा रहे हैं। बबलू सिंह ने इसका प्रतिवाद किया और देखते ही देखते वाद विवाद मारपीट में तब्दील हो गया। तभी नेका राय के टोला निवासी खेत जोतवा रहे व्यक्ति के परिवार के एक सदस्य ने बबलू सिंह को लक्ष्य करके तमंचे से गोली चला दी। निशाना चूकने के कारण गोली बबलू सिंह का भतीजा व लाल वीरेंद्र विक्रम सिंह उर्फ मेवालाल सिंह के पुत्र प्रियांशु सिंह 16वर्ष को लग गई। गोली लगते ही प्रियांशु जमीन पर गिर पड़ा। आनन-फानन में लोग उसे उठाकर सोनबरसा हॉस्पिटल पहुंचाया। जहां से उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया।


इस घटना के बाद नवका टोला के ग्रामीणों ने आरोपियों के गिरफ्तारी की मांग को लेकर एनएच 31 पर चक्का जाम कर दिया। वहां मौके पर पहुंचे सीओ चंद्रेश कुमार सिंह, एसएचओ संजय त्रिपाठी ने त्वरित कार्यवाही का भरोसा देकर समझा-बुझाकर जाम समाप्त कराया। 


वही घटनास्थल पर पहुंचकर आरोपित चार लोगों को हिरासत में ले लिया। जब ग्रामीणों को किसी ने बताया कि थाने में हिरासत में लिए गए लोगों के साथ वीआईपी ट्रीटमेंट हो रही है, तब चलना है ग्रामीणों ने दोबारा लौटकर एनएच पर फिर से चक्का जाम कर दिया।

सूचना पर पुनः मौके पर पहुंचे सीओ और एसएचओ ने वीडियो कॉल के माध्यम से लोगों को दिखाया कि सभी आरोपितों को हवालात में बंद किया गया है तब जाकर चक्का जाम समाप्त हुआ। इस बाबत पूछने पर एसएचओ संजय त्रिपाठी ने बताया कि 5 लोगों के खिलाफ हत्या के प्रयास, बलवा, शस्त्र अधिनियम सहित संबंधित धाराओं में नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है।


रिपोर्ट धीरज सिंह

No comments