Breaking News

जाने कहां कोटा की दुकान का आवंटन कराने गए बीडीओ को ग्रामीणों ने बनाया बंधक

मनियर,बलिया। क्षेत्र के रिगवन ग्राम पंचायत में कोटे की दुकान आवंटन कराने गये   खण्ड विकास अधिकारी रमेश कुमार यादव मनियर व सचिव दीपचन्द को बंधक बनाया। सूचना के बाद पहुंचे थानाध्यक्ष मनियर नागेश उपाध्याय के सूझबूझ से मामला शांत हुआ। 


मिली जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत रिगवन में जिलाधिकारी के निर्देश पर सोमवार को  कोटे की दुकान सक्रिय स्वयं सहायता समुह की खुली बैठक कराकर स्वयं सहायता समूह के सक्रिय सदस्य को आवंटित करनी थी। जिलाधिकारी के निर्देश के अनुपालन में खण्ड विकास अधिकारी रमेश कुमार यादव तय तिथि के अनुसार सोमवार को पहुंचे। जहां पर खुली बैठक में ग्रामीणों का बिरोध का सामना करना पड़ा। चुनाव अधिकारी के अनुसार गांव में एक ही सक्रिय समूह था। जबकि ग्रामीणों का आरोप था कि एक और सक्रिय समूह है।

 ग्रामीणों के अनुसार विडियों द्वारा लेटर जारी करने के समय तक ग्राम पंचायत में एक भी सक्रिय समूह नही था। आनन फानन में अधिकारियों की मिली भगत से 2 सितम्बर को खाता संचालन कर उसी दिन प्रधान के करीबी के खाते का एमआईएस कर दिया गया। यह जानकारी जब ग्रामीणों को हुई तो उन्होंने एकऔर 4 सितंबर को खाता का संचालन कराकर जब एमआईएस कराने पहुंचे तो अधिकारीयो ने टाल मटोल कर दिया गया।

 इसी बात को लेकर लामबंद ग्रामीणों ने विडियों व चुनाव कर्मचारियों को बंधक बनाकर नारेबाजी करने लगे। सुचना पर पहुंची पुलिस ने मामले को भापते हुए विडिओ से अग्रिम आदेश तक निरस्त की घोषणा कराकर पुलिस ने बंधक से मुक्त कराया।
इस संवन्ध में पुछे जाने पर खण्ड विकास अधिकारीमनियर  रमेश कुमार यादव ने बताया कि एडीओ पंचायत व सचिव को नामित कर कोटे के दुकान के लिए सक्रिय समूह को चयनित करना था। ग्रामीणों की मांग थी कि दूसरा सक्रिय सदस्य बनाकर चुनाव कराया जाय। उनकी मांग बेबुनियाद थी। लेकिन उनकी मांगो पर बिचार कर अग्रिम आदेश तक रोक लगा  दी गई।





रिपोर्ट राम मिलन तिवारी

No comments