Breaking News

बेटा नहीं होने के ताने से परेशान माँ ने सोते समय चार बेटियों की गला रेतकर की हत्या

 



रोहतक: हरियाणा के मेवात जिले के पिपरौली गांव में जिस मां ने जन्म दिया, उसी ने अपनी चार बेटियों की हत्या कर दी. इस वारदात को उस समय अंजाम दिया गया, जब चारों बेटियां सो रही थीं. तेज धार वाले हथियार से चारों का गला रेत दिया गया था. सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया. चार मासूम लड़कियां के खून से पूरा घर सना हुआ था. पुलिस ने चारों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजने के साथ ही आरोपी मां को गिरफ्तार कर लिया है. 
मेवात के पिपरौली गांव में हुई इस घटना के बाद से एक बार फिर सवाल उठने लगे हैं, कि क्या लड़के आज भी इतने अहम हैं. बताया जा रहा है कि गांव की रहने वाली फरमिना को रोज ताने मिलते थे. चार बेटियों को जन्म देने वाली फरमिना इन तानों से इस कदर तंग आ चुकी थी, कि उसने अपनी ही बच्चियों को मौत की नींद सुला दिया. सात वर्षीय मुस्कान, 4 वर्षीय मिस्कीना, 3 वर्षीय अल्फीशा और चार माह की अर्बिना की सोते समय धारदार हथियार से गला काटकर हत्या कर दी गई. जब सुबह पिता खुर्शीद की आंख खुली, तो चारों ओर खून पसरा देख उसके होश उड़ गए. बेटियों की लाश देख वह भी अपनी सुधबुध खो बैठा. पिता की आवाज सुनकर मौके पर पड़ोसी आ गए. सूचना​ मिलते ही स्थानीय थाना प्रभारी संतोष कुमार भी मौके पर पहुंच गए.पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया. ​पुलिस को बताया गया कि 2012 में फरमिना का निकाह खुर्शीद के साथ हुआ था. उसकी चार बेटियां थीं, बेटियों की पर​वरिश और ताने से वह मानसिक रूप से परेशान रहने लगी थी. 
थाना प्रभारी संतोष कुमार ने बताया कि आरोपी मां की मानसिक स्थिति को देखते हुए उसे हिरासत में लेकर उपचार के लिए नलहड़ मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया है.  मामले की छानबीन की जा रही है.




डेस्क

No comments