Breaking News

> > >

रंग लाया युवाओं का आंदोलन,मंत्री की पहल पर मिलीं ददरी मेला के आयोजन की हर‌ी झंडी



बलिया। "बलिया मांगे ददरी मेला" के समर्थन में युवाओं द्वारा चलाया जा रहा आमरण अनशन मंगलवार को राज्य मंत्री आनंद स्वरुप शुक्ल के मेला लगाने के आश्वासन के पश्चात उद्देश्यपूर्ति में सफल रहा। अनशनकारियों को मंत्री ने जूस पिलाकर अनशन समाप्त कराया। इसके पूर्व अनशन स्थल पर पहुंचे मंत्री के समक्ष अनशनकारी विकास पाण्डेय लाला, सागर सिंह राहुल, रूपेश चौबे, अंकित सिंह, धनजी यादव, रवि सोनी ने पांच सूत्रीय मांग रखी। जिसमें प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी ददरी मेला का आयोजन कराने, मेला को राजकीय दर्जा प्रदान करने, पशु व ददरी मेला के लिये स्थायी भूमि आवंटित कराने और गंगा मार्ग को गंदगी मुक्त कराने की मांग शामिल थी। मांगों पर मंत्री शुक्ला ने कहा कि प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी मेला लगाया जाएगा। कहा कि शीघ्र ही ददरी तथा पशु मेले के लिए स्थायी भूमि भी आवंटित करा दी जाएगी। राजकीय मेले के विषय पर कहा कि इसके लिए मैं पहले से ही वार्ता कर रहा हूं और शीघ्र ही मेले को राजकीय दर्जा प्राप्त होगा। गंगा मार्ग की सफाई को संज्ञान लेते हुए मंत्री ने लगे हाथ अनशनकारियों के साथ ही गंगा मार्ग का दौरा किया और नगर मजिस्ट्रेट, नगर पालिका के ईओ तथा सम्बन्धित अधिकारियों को शीघ्र गंगा मार्ग दुरुस्त करने का आदेश दिया। इस मौके पर रणवीर सिंह सेंगर, रजनीश पाण्डेय, अरुण सिंह, चन्दन ओझा, जैनेन्द्र पाण्डेय, अरुण कुमार, सुमित मिश्रा गोलू, विवेक ओझा, अभिजीत पाण्डेय, अंजनी चौबे बागी, अतुल पाण्डेय, धनन्जय सिंह बिसेन, आदित्य सिंह, सौरभ पाठक, प्रशांत पाण्डेय रिंशू, सूरज तिवारी, निखिल पाण्डेय, प्रदीप भोला, आलोक भारती, अशोक गुप्ता, गोपाल, विवेक पाण्डेय आदि रहे। आभार अमित दुबे ने तथा संचालन अचिन्त्य त्रिपाठी ने किया।


----------------------


मंत्री ने बनाई पांच सदस्यी समन्वय समिति


ददरी मेला के आयोजन को लेकर चल रहे आंदोलन को गंभीरता से लेते हुए मंत्री आनंद स्वरुप शुक्ल ने आयोजन को लेकर प्रशासन से समन्वय बनाने के लिए पांच सदस्यीय टीम का गठन किया है,जिसमें विकास पाण्डेय लाला, सुमित मिश्रा गोलू, अमित दुबे, रूपेश चौबे तथा सागर सिंह राहुल शामिल है। टीम ददरी मेला के आयेजन को लेकर प्रशासन को सलाह व सुझाव देने के साथ-साथ समन्वय बनाने का काम करेगी।





रिपोर्ट धीरज सिंह

No comments