Breaking News

> > >

धान की खरीद हुई दयनीय, कहीं क्रय केंद्र गायब तो कहीं खरीदारी हुई ठप्प

 


बेल्थरारोड, बलिया। नगरा क्षेत्र में धान खरीद की स्थिति काफी दयनीय है। कही खरीद ठप तो कहीं क्रय केंद्र का पता नहीं। किसान क्रय केंद्रों का चक्कर काटते काटते थक चुके है और अपनी उपज औने पौने दाम 1200 रू प्रति कुंतल बिचौलिए को बेचने को विवश है। विपणन केंद्र पर बिचौलिए भी सक्रिय है तथा किसानों के धान में तमाम कमियां बताकर जमकर कटौती की जा रही है। वहीं यूपी स्टेट एग्रो पर गुरुवार से खरीदारी आरम्भ हो गई है।

               

 नगरा ब्लॉक में भारतीय खाद्य निगम, विपणन व यूपी स्टेट एग्रो को क्रय केंद्र बनाया गया है। भारतीय खाद्य निगम का क्रय केंद्र कहां है, किसी को पता नहीं। विपणन केंद्र पर अब तक सत्रह किसानों से 1009 कुंतल धान की खरीद की गई है। सूत्रों की माने तो विपणन केंद्र पर सरकार के मंशा के अनुरूप खरीदारी नहीं हो रही है तथा किसानों की उपज में पांच से सात किग्रा तक प्रति कुंतल कटौती की जा रही है। विपणन केंद्र के आसपास बिचौलिए भी सक्रिय है।गुरुवार को इस केंद्र पर धान खरीद केंद्र पर ठप थी। किसानों का कहना है कि योगी सरकार का निर्देश है कि किसानों का अधिक से अधिक धान खरीद की जाए लेकिन महकमा किसानों की फसल में कमियां बताकर शोषण करने में जुटा है।वहीं यूपी स्टेट एग्रो नगरा पर केंद्र प्रभारी रमाकांत यादव ने बताया कि बोरा उपलब्ध नहीं था, इसलिए खरीदारी ठप थी। खरीदारी गुरुवार से आरम्भ हो गई है। दो किसानों से सौ कुंतल की खरीद की गई है। हरदा रोग के कारण मिलर धान लेने को तैयार नहीं है। इसलिए जिन किसानों के धान में हरदा रोग लगा है, वो काफी परेशान व चिंतित है।

                                    



रिपोर्ट संतोष द्विवेदी

No comments