Breaking News

> > >

हफ्तों से घर में पड़ी थी माँ- बेटी का लाश, रेंग रहे थे कीड़े

 



बलिया। दोकटी थाना क्षेत्र के रामनगर गांव में बुधवार की सुबह एक घर में मां व विवाहिता बेटी का शव पाया गया। शव हफ्तों पुराने थे और उनमें कीड़े रेंग रहे थे और भयंकर दुर्गंध उठ रही थी। उनकी मौत की जानकारी तब हुई जब गांव के एक पड़ोसी ने महिला के बेटे को फोन कर बताया कि उसके घर का दरवाजा खुला हुआ है। बेटे ने अपने भांजे को घर भेजा तो घर में दोनों के शव मिले। शव की सूचना मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार के साथ सीओ बैरिया राजेश त्रिपाठी व दोकटी थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई। तहसीलदार बैरिया शिव सागर दुबे भी मौके पर पहुंचे। शव के पास कीटनाशक की दो शीशी भी मिली है। पुलिस व प्रशासन प्रथम दृष्टया इसे आत्महत्या का मामला बता रहे हैं। हालांकि पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारणों का सही पता चलेगा।


दोकटी थाना क्षेत्र के रामनगर निवासी मीरा देवी 60 पत्नी स्व. बच्चा सिंह व उनकी विवाहित बेटी गुड़िया सिंह 35 गुजरात से करीब एक माह पहले गांव पहुंची थीं। दोनों मकान में एक स‌ाथ रहती थीं। बुधवार को मीरा देवी के बेटी राणा प्रताप को उसके पड़ोसी ने फोन किया कि उसके घर का दरवाजा खुला है। राणा प्रताप ने कर्ण छपरा निवासी भांजे संजीत सिंह को फोन कर घर भेजा। संजीत रामनगर स्थित मामा के घर पहुंचा तो अंदर घुसते ही उसे तेज दुर्गंध का अहसास हुआ। अंदर पहुंचा तो दोनों के शव नजर आए। उसने तत्काल मामले की जानकारी पुलिस कंट्रोल रूम को 112 नंबर पर दी। सूचना मिलते ही दोकटी थानाध्यक्ष अमित सिंह मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी उ‌च्चाधिकारियों को दी। पुलिस को शव के पास कमरे में दो कीटनाशक की खाली शीशी मिली है। दोनों के शव सड़ गए थे और उनमें कीड़े रेंग रहे थे। मौके को देखते हुए पुलिस ने संभावना जताई है कि दोनों ने एक सप्ताह पहले आत्महत्या की है।


गांव में पहुंचे तहसीलदार बैरिया पंडित शिव सागर दुबे ने बताया कि प्रथम दृष्टया मौत पारिवारिक कलह हो सकती है। अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार ने बताया कि दोनों के शवों पर कहीं कोई चोट के निशान नहीं हैं। कमरे के बाहर दो कीटनाशक की खाली शिशियां मिली हैं। इससे लगता है कि मां-बेटी ने करीब एक सप्ताह पहले जहर खाकर आत्महत्या की है। घर से मोबाइल मिला है। उसका काल डिटेल निकाला जा रहा है, ताकि जांच आगे बढ़ाई जा सके। मौत का कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेेगा।




प्रथम दृष्टया ये आत्महत्या का मामला लग रहा है। शव के पास कीटनाशक की शिशियां मिली हैं। पोस्टमार्टम के लिए शवों को भेजा गया है। वहां की रिपोर्ट आने के बाद ही पूरे मामले सही जानकारी हो सकेगी और जांच की प्रक्रिया आगे बढ़ेगी।


डॉ. विपिन ताडा, पुलिस अधीक्षक, बलिया




रिपोर्ट धीरज सिंह

No comments