Breaking News

> > >

किशोरी ने जहर खाकर जान दी, सुसाइड नोट में मामा -मामी व एक युवक को जिम्मेदार ठहराया


बेल्थरा रोड, बलिया। नगरा थाना क्षेत्र के एक गांव की 15 वर्षीय किशोरी ने बुधवार की रात में विषाक्त पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या से पहले उसने सुसाइड नोट लिखा है, जिसमें मां-पापा से माफी मांगते हुए आत्महत्या के लिए मामा-मामी और एक युवक को जिम्मेदार ठहराया है। उसने सुसाइड नोट में यह भी लिखा है कि संबंधित युवक की वजह से दो और लड़कियां जान दे चुकी हैं।



साथ ही मामा-मामी को चेताया है कि आज से आपका बुरा वक्त शुरू होता है, यदि मेरे मां-पापा को कुछ कहा तो सोच लेना...। किशोरी के पिता ने नगरा थाने में अपने साले, उसकी पत्नी और गड़वार थाना क्षेत्र के कुरेजी निवासी मनीष के खिलाफ तहरीर दी है। 



                जानकारी के अनुसार, नगरा थाना क्षेत्र के एक गांव की किशोरी की उसी थाना क्षेत्र के एक गांव में ननिहाल है। ननिहाल में किसी उत्सव के दिन किशोरी ननिहाल गई थी। बुधवार को अपने गांव आई। रात में परिजनों के सो जाने के बाद उसने विषाक्त पदार्थ खा लिया, जिससे उसकी मौत हो गई।आत्महत्या की जानकारी परिजनों को सुबह हुई, जिसके बाद उन्होंने घटना की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। किशोरी की लाश के पास तीन पेज का सुसाइड नोट मिला है।उसमें उसने अपनी मौत के लिए मामा-मामी और एक युवक को दोषी बताते हुए लिखा है कि मम्मी-पापा को कभी परेशान नहीं होने दूंगी। साथ ही मामा-मामी को खुश नहीं रहने दूंगी। यह भी लिखा है कि युवक की वजह से दो-दो लड़कियां अपनी जान दे चुकी हैं। किशोरी ने अपने सुसाइड नोट में युवक का नाम लेकर लिखा है कि तुम यदि मेरी बात मान गए होते तो मैं भी इस दुनिया में रहती।


पिता के तहरीर पर पुलिस मुकदमा दर्ज कर आरोपी को हिरासत में लिया


बेल्थरा रोड, बलिया। नगरा थाना क्षेत्र के एक गांव की किशोरी की आत्म हत्या मामले में पिता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है।नगरा थानाध्यक्ष विवेक पांडेय ने बताया कि किशोरी के पिता ने तहरीर दी है। तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। संबंधित आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है, पूछताछ की जा रही है। जल्द ही खुलासा किया जाएगा।

                                

संतोष द्विवेदी

No comments